बूंद-बूंद पानी को तरसती महिलाओं का भडक़ा गुस्सा


गुजरात के नवसारी में पानी की किल्लत
परेशान महिलाओं ने नपा अध्यक्ष का किया घेराव

By: Sunil Mishra

Updated: 04 Apr 2019, 11:02 PM IST


नवसारी. गर्मी की शुरुआत होते ही नवसारी में पानी की किल्लत सामने आने लगी है। शहर के जलालपोर के अमृत नगर सोसायटी में पानी नहीं आने से परेशान महिलाओं ने नपा कार्यालय पहुंचकर नपा प्रमुख का घेराव किया और उनके चेम्बर में धरना देकर समस्या समाधान की मांग की।
नवसारी नगर पालिका की जलापूर्ति नहर के रोटेशन व्यवस्था पर टिकी है। बीते वर्ष कम बरसात होने से उकाई बांध का जलस्तर कम होने से नहर का रोटेशन कई दिनों से बंद है। इससे पानी की समस्या शुरू हो गई है। एक साल से लोगों को दिन में सिर्फ एक बार ही पानी दिया जाता है। कम प्रेशर के कारण पानी आने से महिलाएं पर्याप्त पानी नहीं भर पाती हैं। अमृत नगर सोसायटी में तीन साल से पानी की किल्लत है। महिलाओं का आरोप है कि एक साल से नलों में बूंद-बूंद पानी आने से समस्या बढ़ गई है। पूर्व में नपा की सामान्य सभा में भी सोसायटी की महिलाओं ने हंगामा किया था, लेकिन शासक पक्ष ने समस्या दूर करने के बजाय कांग्रेस की चाल बताकर मामले से पल्ला झाड़ लिया था। गर्मी शुरू होने पर पानी की समस्या बढ़ी तो आक्रोशित महिलाएं गुरुवार को मोर्चा लेकर नगर पालिका पहुंची और नपा प्रमुख का घेराव कर दिया। यह देखकर नपा सीओ दशरथ सिंह गोहिल और नपा अभियंता राजू गुप्ता भी नपा प्रमुख के चेम्बर में पहुंच गए और महिलाओं को समझाने का प्रयास किया। आक्रोशित महिलाओं ने कहा कि उनकी बात पर विश्वास नहीं कर सकती और धरने पर बैठ गई। अध्यक्ष कांति पटेल ने भी महिलाओं को कुछ देर समझाने का प्रयास किया और बाद में कार्यालय से निकल गए। महिलाओं ने आरोप लगाया कि स्थानीय वार्ड के भाजपा पार्षद नगर पालिका में पानी की समस्या बताने से मना करते हैं। महिलाओं के अनुसार पार्षद ने कहा कि महिलाओं के नपा पर जाने से उनकी इज्जत जाएगी। महिलाओं ने कहा कि पानी की समस्या का निराकरण करें, नहीं तो पार्षद को यह ध्यान में रखना होगा कि सामने चुनाव आ रहा है।

कोई नहीं सुनता
तीन साल से पानी की समस्या है और एक साल से नलों में बूंद-बूंद पानी आ रहा है। नपा में कई बार शिकायत करने पर भी कोई नहीं सुनता है। हम पालिका में शिकायत करने आते हैं तो हमारे पार्षद की इज्जत जाती है। वे हमें पानी मुहैया करवाएं, हम यहां मोर्चा लेकर नहीं आएंगी।
पूर्वा गोंडलिया, निवासी अमृत नगर सोसायटी

खरीदना पड़ रहा है पानी
नपा छह सौ रुपए पानी का टैक्स लेती है। मार्च में टैक्स जमा न करने पर पानी का कनेक्शन काटने की चेतावनी दी जाती है, लेकिन एक साल से पानी की समस्या दूर नहीं कर पा रहे हैं। यहां आने पर हमारी कोई नहीं सुनता। पानी खरीदना पड़ रहा है। नपा हमारी परेशानी समझे और इसका निराकरण लाए।
पार्वती ठुम्मर, निवासी अमृत नगर

रोटेशन बंद होने से परेशानी
नहर का रोटेशन बंद होने से पानी कम देना पड़ रहा है। उकाई बांध में भी जलस्तर कम हो गया है। एक समय पानी दे रहे हैं। महिलाओं की समस्या सुनी है और अधिकारियों को भेजकर जांच के बाद समस्या दूर करने का प्रयास होगा।
दशरथ गोहिल, सीओ नवसारी नपा।

Sunil Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned