बीच सडक़ बैठे रहते हैं पशु, वलसाड नगरपालिका नहीं गंभीर

बीच सडक़ बैठे रहते हैं पशु, वलसाड नगरपालिका नहीं गंभीर

Sunil Mishra | Updated: 10 Jul 2019, 06:11:50 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

हालर रोड, धरमपुर तीथल रोड और बेचर रोड पर यह समस्या ज्यादा गंभीर

आवारा पशुओं से आए दिन हो रहे हादसे
नपा अध्यक्ष बोले- नपा कर्मचारी पशुओं को पकड़ेंगे

वलसाड. बरसात के मौसम में सडक़ों पर आवारा पशुओं का जमावड़ा बढ़ गया है। इससे आए दिन हादसे हो रहे हैं। इसके अलावा ट्रैफिक जाम से भी लोग परेशान हो रहे हैं। शहर की सभी सडक़ों पर शाम होते ही आवारा पशुओं का जमावड़ा होने लगता है। सडक़ों पर गाय और बैल रास्ते के बीच में ही बैठ जाते हैं और वाहन के आवागमन करने पर अचानक उठकर भागने या चलने लग जाते हैं। इसके कारण कई लोग हादसे का शिकार होकर घायल हो रहे हैं। हालर रोड, धरमपुर तीथल रोड और बेचर रोड पर यह समस्या ज्यादा गंभीर है, लेकिन नगर पालिका इस समस्या के प्रति गंभीर नहीं है। अब तक कई लोग सडक़ों पर घूमने वाले पशुओं के कारण घायल हो चुके हैं और कुछ की जान भी चली गई है।

 

patrika

नपा कर्मचारी पशुओं को पकडऩे का कार्य शुरू करेंगे

कई बार नगर पालिका में लोगों ने शिकायत की, लेकिन समस्या हल करने की कोशिश नहीं की गई। सडक़ों पर आवारा घूमने वाले पशुओं को उनके मालिक शाम को खुला छोड़ देते हैं, दिन भर चरने के बाद ऐसे पशु रात में घर भी लौट जाते हैं जिससे यह पता नहीं चलता कि पशु किसके हैं। आवारा पशुओं को पकडक़र पांजरापोल भेजने की मांग लोगों ने कलक्टर से भी की है और पांजरापोल में पशुओं को छुड़वाने के लिए आने पर उनके मालिकों से पांच से दस हजार रुपए तक जुर्माना वसूलने की मांग भी की गई है, जिससे ऐसे लोगों को सबक मिल सके। नपा प्रमुख पंकज आहिर ने बताया कि नपा कर्मचारी पशुओं को पकडऩे का कार्य शुरू करेंगे और उन्हें पांजरापोल में भेजा जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned