scriptAnother example of lack of coordination among state police | OMG : सूरत में हत्या के आरोपी में वर्षों से ओडिसा में आजाद घूम रहे थे | Patrika News

OMG : सूरत में हत्या के आरोपी में वर्षों से ओडिसा में आजाद घूम रहे थे

- राज्यों की पुलिस में तालमेल की कमी का एक और उदाहरण
- क्राइम ब्रांच ने तीन को पकड़ा
- एक आरोपी 27, दूसरा 13 और तीसरा 11 वर्षो से फरार चल रहा था

 

सूरत

Published: November 19, 2021 06:00:14 pm

सूरत. अलग अलग राज्यों की पुलिस के बीच आपसी तालमेल और सिस्टम की पेचिंदगियों का फायदा उठाने से आपराधी नहीं चूकते। वे एक राज्य में अपराध कर दूसरे राज्य में आजाद घूमते हैं। ऐसे ही सिस्टम का फायदा उठा कर ओडिसा में खुले घूम रहे हत्या जैसे गंभीर अपराध के तीन आरोपियों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। इनमें से एक 27 वर्ष से तो दूसरा 13 व तीसरा 11 वर्षो से फरार चल रहा था।
Surat/ साली से बलात्कार और साले की हत्या करने वाला बिहार से गिरफ्तार
Surat/ साली से बलात्कार और साले की हत्या करने वाला बिहार से गिरफ्तार
क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक, ओडिसा के गंजाम जिले के बेलझरी गांव निवासी आरोपी प्रकाश मेहना 27 वर्षो से फरार चल रहा था। उसके खिलाफ 1994 में सूरत के वराछा थाने में हत्या का मामला दर्ज हुआ था। उस दौरान वह बॉम्बे मार्केट के पास युवकों को कराटे सिखाता था।
कारोबारी रंजिश में बंशी प्रधान नाम के व्यक्ति की उसने हत्या कर दी और ओडिसा भाग गया था। तब से ओडिसा में भी उसने आपराधिक गतिविधियां शुरू कर दी थी और छोटा गिरोह बना लिया था। सामाजिक संगठन बना कर राजनीतिक पार्टियों में भी सक्रिय हो गया था।

उड़ीसा में कंडक्टर का काम कर रहा था :
इसी तरह से बुढाम्बे गांव निवासी रंजन गौड़ा भी तेरह वर्षो से फरार था। उसके खिलाफ 2008 में सचिन थाने में हत्या का मामला दर्ज हुआ था। सचिन जीआइडीसी रोड नम्बर पांच से गुजरते समय में शराब के नशे में धुत एक व्यक्ति के साथ उसका विवाद हो गया था। मृतक की राड से वार कर हत्या कर वह भी गांव भाग गया था। तब से ओडिसा में ही था। वह वहां निजी बस में कंडक्टर काम कर रहा था।
इसी तरह से रामचंद्रपुर निवासी बानाम्बर गौड के खिलाफ खटोदरा थाने में हत्या का मामला दर्ज हुआ था। 2010 में सूरत में मजदूरी करता था। खटोदरा पंचशीलनगर निवासी दिलीप पांडा की हत्या कर दी थी और फरार हो गया था। हत्या के बाद से वह गांव में खेती कर रहा था।
पिछले दिनों क्राइम ब्रांच ने गंभीर मामलों में फरार चल रहे आरोपियों की टोह लेनी शुरू की। तीनों आरोपियों के बारे में पुख्ता जानकारी जुटा कर एक टीम ओडिसा भेजी। ओडिसा गई टीम ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें सूरत ले आई।
--------------------------

गांजा तस्करी का वांछित गिरफ्तार

सूरत. क्राइम ब्रांच ने कतारगाम उत्कल नगर निवासी आरोपी नारायण जैना को गिरफ्तार किया है। उसने गत 25 सितंबर को कच्छ-भुज स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपी जितेन्द्र कोठारी व उसके तीन साथियों को 1.41 लाख रुपए का गांजा दिया था। चारों आरोपी कार में गांजा लेकर भुज गए थे। वहां एसओजी ने उन्हें गिरफ्तार किया था। एसओजी की सूचना पर क्राइम ब्रांच ने वांछित नारायण को गिरफ्तार किया।
------------------------------------------------

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावCorona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाJob Reservation: हरियाणा के युवाओं को निजी क्षेत्र की नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण आज से लागूअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up DayArmy Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए महत्व और इतिहास से जुड़े रोचक तथ्यभीम आर्मी प्रमुख चन्द्र शेखर ने अखिलेश यादव पर बोला हमला, मुलाकात के बाद आजाद निराशछत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ रहे कोरोना से मौत के आंकड़े, 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत, 6153 नए संक्रमित मिले, सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट दुर्ग मेंयूपी विधानसभा चुनाव 2022 पहले चरण का नामांकन शुरू कैराना से खुला खाता, भाजपा के लिए सीटें बचाना है चुनौती
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.