सरस्वती की मूर्तियां बनाने में जुट गए कारीगर

बसंत पंचमी 30 जनवरी को मनाई जाएगी

Basant Panchami will be celebrated on 30 January

Sunil Mishra

January, 1611:15 PM

सिलवासा. बसंत पंचमी 30 जनवरी को मनाई जाएगी। पर्व नजदीक आते ही मूर्तिकार ज्ञान की देवी मां सरस्वती की मूर्तियों के निर्माण में व्यस्त हो गए हंै। बसंत पंचमी पर सरस्वती की मूर्तियां एक सप्ताह पूर्व बिकने लगती हैं। कलाकार मूर्तियों को आकर्षक रूप देकर आयोजकों की पसंद के अनुरूप बनाते हैं।
मूर्तिकार जगन प्रजापति ने बताया कि बसंत पंचमी पर दानह में तीन से चार हजार मूर्तियां आसानी से बिक जाती हैं। सरस्वती की एक मूर्ति की लागत 500 से लेकर 10 हजार रुपए तक आती है। मूर्ति के लिए कपड़े व गहनों की सजावट मांग के अनुसार की जाती है। बाजार में मंदी से मूर्तिकारों का धंधा प्रभावित हुआ है। कारोबार के लिए छोटे मूर्तिकारों को घास, मिट्टी, कपड़े, आभूषण आदि जुटाने के लिए कर्ज लेना पड़ता है। इस बार ऑर्डर कम होने से उनकी हालत पतली है। बसंत पंचमी पर शहर में कई जगहों पर सरस्वती मां की मूर्तियां स्थापित की जाती हैं। आयोजक बसंत पंचमी से एक सप्ताह पूर्व पंडाल, पूजा, आराधना की तैयारियों में जुट जाते हंै। माह पूर्व से ऑर्डर देकर कई मनपंसद मूर्ति तैयारी करवाते हैं। मूर्ति का सौन्दर्य आकर्षण बढ़ाने के लिए आयोजकों की और से कपड़़े और गहने दिए जाते हैं।

सरस्वती की मूर्तियां बनाने में जुट गए कारीगर

जीएसटी से मूर्तियों की लागत में इजाफा

जीएसटी से कई धंधे प्रभावित हुए हैं, उसमें मूर्तिकार भी अछूते नहीं हैं। जीएसटी से मूर्तियों की लागत में इजाफा हुआ है। प्रदेश में उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिसा मूल के कलाकार अधिक हैं। यह कलाकार त्योहारों पर आयोजकों की पंसद के मुताबिक मूर्तियों का निर्माण करते हैं। जन्माष्टमी, गणेशोत्सव, बसंत पंचमी पर हजारों मूर्तियों की बिक्री हो जाती है।

Show More
Sunil Mishra Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned