अंतरराष्ट्रीय मैच फिलहाल दूर की कौड़ी

Mukesh Sharma

Publish: Oct, 13 2017 05:13:29 (IST)

Surat, Gujarat, India
अंतरराष्ट्रीय मैच फिलहाल दूर की कौड़ी

साठ लाख से अधिक आबादी वाले सूरत शहर के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच की मेजबानी अभी दूर की कौड़ी है। लालभाई कॉन्टे्रक्टर स्टेडियम में भले फ्लड लाइट लग

सूरत।साठ लाख से अधिक आबादी वाले सूरत शहर के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच की मेजबानी अभी दूर की कौड़ी है। लालभाई कॉन्टे्रक्टर स्टेडियम में भले फ्लड लाइट लग चुकी हैं और नॉर्थ स्टेण्ड के निर्माण की तैयारी भी चल रही है, लेकिन अभी तक सूरत को एक भी अधिकृत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच नहीं मिला है।

स्टेडियम तैयार होने के बाद शहर के हजारों क्रिकेट प्रेमियों की मंशा है कि सूरत को अधिकृत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच की मेजबानी का मौका मिले, ताकि उन्हें मैच देखने के लिए अहमदाबाद या मुंबई नहीं जाना पड़े। सूरत की इस मांग को गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन (जीसीए) समय-समय पर विभिन्न कमियां गिनाकर टालती रही है। पहले एयर कनेक्टिविटी और फाइव स्टार होटलों की सुविधा नहीं होने का कारण गिनाया जाता था। स्टेडियम में भी छोटी-बड़ी तकनीकी खामियां गिनाकर मैच आवंटित करने से इनकार कर दिया जाता था। पिछले कुछ साल में सूरत डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (एसडीसीए) ने धीरे-धीरे स्टेडियम में बैठक व्यवस्था, साइड स्क्रीन समेत अन्य कमियों को दूर कर दिया है। फाइव स्टार होटलों और एयर कनेक्टिविटी की सुविधा भी सूरत को मिल गई है। फिर भी सूरत के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। सूरत को प्रथम श्रेणी मैच तो दिए जाते हैं, लेकिन अधिकृत अंतरराष्ट्रीय मैच और आईपीएल के मैच के लिए अहमदाबाद को प्राथमिकता दी जाती है।

&यहां सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं, लेकिन एसडीसीए बीसीसीआई से सीधे जुड़ा हुआ नहीं है। एसडीसीए जीसीए का हिस्सा है। जो मैच आवंटित होते हैं, वह जीसीए को मिलते हैं। अगले सीजन में जो मैच जीसीए को मिलेगा, उसे सूरत में करवाने की कोशिश रहेगी। कन्हैयाभाई कॉन्ट्रेक्टर, अध्यक्ष, एसडीसीए

जागी थी उम्मीद, नहीं मिला मैच

अहमदाबाद में जीसीए के सरदार पटेल क्रिकेट स्टेडियम (मोटेरा) के पुनर्निर्माण कार्य के कारण बंद होने और एसडीसीए के अध्यक्ष कन्हैयाभाई कॉन्ट्रेक्टर के जीसीए की कार्यकारिणी में शामिल होने पर सूरत को अंतरराष्ट्रीय मैच मिलने की उम्मीद जागी थी। मोटेरा के बंद होने पर जो मैच जीसीए को मिलने वाले थे, उनके लिए उसके पास सूरत से बेहतर विकल्प नहीं था, लेकिन जीसीए कोई फैसला नहीं कर पाया है, जिसकी वजह से सूरत को अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी का मौका नहीं मिला। बीसीसीआई के शेड्यूल को देखते हुए अगले एक साल तक भी सूरत को अंतरराष्ट्रीय मैच मिलने के आसार नहीं हंै।

कपिलदेव करेंगे उद्घाटन

एसडीसीए ने लालभाई कॉन्ट्रेक्टर स्टेडियम में लगी फ्लड लाइट का उद्घाटन भारत के पूर्व कप्तान और ऑल राउंडर कपिलदेव से करवाने का निर्णय किया है। कपिल ने एसडीसीए के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है, लेकिन इसके लिए तारीख फिलहाल तय नहीं की गई है। एसडीसीए की मंशा है कि किसी बड़े मैच से पहले कपिल के हाथों उद्घाटन करवाया जाए। साथ ही कपिल से सुनील गावस्कर स्टेण्ड (नॉर्थ स्टेण्ड) की आधारशिला भी रखवाई जाए। इस साल रणजी सीजन में यह कार्यक्रम हो सकता है।

सुविधाओं की कमी नहीं

डूमस रोड पर एक लाख दस हजार स्क्वायर फीट क्षेत्रफल में फैले लालभाई कॉन्ट्रेक्टर स्टेडियम के मुख्य पेवेलियन में १२ हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता है। इसके अलावा मीडिया रूम, एम्पायर रूम, ड्रेसिंग रूम, मेडिकल रुम, आठ प्रेक्टिस पिच, पार्किंग समेत अन्य सुविधाएं भी हैं। स्टेडियम कॉम्प्लेक्स में टेनिस कोर्ट, जिम्नेजियम और अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्वीमिंग पूल भी है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned