फर्जी दस्तावेज बना कर करोड़ों की जमीन हथियाने का प्रयास

- उमरा पुलिस ने पांच जनों के खिलाफ दर्ज किया मामला

By: Dinesh M Trivedi

Published: 30 Dec 2018, 10:45 PM IST

सूरत. वेसू गांव स्थित करोड़ो रुपए की विवादित जमीन के फर्जी दस्तावेज बना कर कब्जा करने के प्रयास में उमरा पुलिस ने दो विधवा महिलाओं समेत पांच जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक मगदल्ला कोला स्ट्रीट निवासी लक्ष्मी धनसुख पटेल, उमरा देवियावाड निवासी चंपा हेमंत उमरीगर, घोड़दौड़ रोड लक्ष्मी विलास कॉम्प्लेक्स निवासी आजाद रामोलिया, मांडवी भावनगर निवासी शैलेश पालडिया व अठवालाइन्स लीजंड बंगलोज निवासी अजय परमार ने नियोजित साजिश के तहत वेसू गांव रेवेन्यु सर्वे नम्बर ३२७/१ स्थित जमीन पर कब्जे का प्रयास किया। जूनी शर्त की उक्त जमीन विवादित होने की जानकारी होने। हाई कोर्ट द्वारा उमरा पुलिस को रीसीवर नियुक्त किए जाने की जानकारी होने के बावजूद जमीन हथियाने की साजिश रजी।

फर्जी दस्तावेजों के जरिए लक्ष्मी व चंपा ने उनका कोई मालिकी हक नहीं होने के बावजूद तीसरी बार जमीन का ४ करोड़ ७३ लाख २२ हजार में सौदा किया और आजाद, शैलेश व अजय के नाम २०१६ में जमीन के दस्तावेज बनवाए।


फ्लेट से डॉलर समेत ४.३१ लाख का माल चोरी


सूरत. सुमूल डेरी रोड के एक फ्लेट में घुसे चोर ८०० अमरीकी डॉलर समेत ४ लाख ३१ हजार रुपए का सामान चुरा कर ले गए। पुलिस के मुताबिक चोरी अल्कापुरी सोसायटी दिव्य ज्योत फ्लैट्स निवासी कुणाल पुत्र भरत पटेल के यहां हुई। ट्युशन क्लासेज चलाने वाले कुणाल शनिवार शाम को परिवार के साथ नडियाद गए थे।

वहां से रविवार सुबह लौट तो घर के मुख्य दरवाजे का ताला टूटा हुआ था और अंदर रखे विभिन्न किस्म के सोने चांदी के जेवर एक लाख ५० हजार रुपए व ८०० अमरीकी डॉलर गायब मिले। कुणाल की सूचना पर मौके पर पहुंची महिधरपुरा पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबिन शुरू कर दी है। फर्जी दस्तावेज बना कर करोड़ों की जमीन हथियाने का प्रयास उमरा पुलिस ने पांच जनों के खिलाफ दर्ज किया मामला

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned