शुभ संकल्प जरूरी : आचार्य अवधेशानंद

जब मनुष्य की बुद्धि भ्रम का शिकार होती है तो संकल्प की परिणति धुंधकारी के रूप में होती है। उत्तम परिणाम की प्राप्ति के लिए वैचारिक स्पष्टता और शुभ संक

By: मुकेश शर्मा

Published: 20 Jan 2018, 09:45 PM IST

सूरत।जब मनुष्य की बुद्धि भ्रम का शिकार होती है तो संकल्प की परिणति धुंधकारी के रूप में होती है। उत्तम परिणाम की प्राप्ति के लिए वैचारिक स्पष्टता और शुभ संकल्प की आवश्यकता है। यह उद्गार शुक्रवार को व्यासपीठ से स्वामी अवधेशानंद महाराज ने व्यक्त किए। श्री श्याम सेवा ट्रस्ट द्वारा वीआईपी रोड, वेसू मेें श्री श्याम श्यामधाम पर निर्मित पंडाल में महाराज ने परिक्षित के प्रसंग का वर्णन किया। उन्होंने कहा कि धर्म आत्मसात करना चाहिए।


गृहस्थ जीवन में संयम का जीवन जिएं। शुद्ध आहार, शुद्ध विचार एवं शुद्ध चित से ही हमारा आचरण शुद्ध होगा। भागवत की ऊर्जा ही ऐसी है। भागवत को ज्ञान यज्ञ और विचार यज्ञ भी कहा गया है। हमारी सनातन संस्कृति नर से नारायण बनने की है। गुरु मुख से, संतों से सत्संग सुनें। सत्संग से ज्ञान चरित्र एवं साधना का सौंदर्य खिलता है। व्यक्तित्व दो-तीन तरह का
होता है।

वैचारिक व्यक्तित्व में शुभ संकल्प कर कार्य करें। आध्यात्मिक व्यक्तित्व में साधना का बल, गुरु परम्परा का बल और भगवान की सूक्ष्म कृपा होती है। उन्होंने पलक पलक कटी जाए उमरिया.. लौट के हाथ न आए... भजन गाकर श्रद्धालुओं को भाव विभोर कर दिया। उन्होंने कहा कि जिस दिन वैराग्य भाव आएगा, वह दिन आपका भाग्यशाली दिन होगा। कथा में श्री श्याम अखण्ड ज्योत पाठ के रचियता श्रीचंद शर्मा, श्री श्याम मंदिर खाटूधाम के मंत्री प्रतापसिंह चौहान, सालासर धाम के पुजारी सम्पत और भगवती प्रसाद विशेष रूप से उपस्थित थे।

सुदंरकांड पाठ आज

श्री श्याम मंदिर, सूरतधाम के प्रथम पाटोत्सव आयोजन में शनिवार को सामूहिक सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया जाएगा। पाटोत्सव के मुख्य संयोजक सुशील गाडोदिया ने बताया कि श्री मानस मंडल द्वारा संगीतमय सुंदरकांड पाठ का पठन किया जाएगा।

मेडिकल जांच कैम्प

श्री श्याम मंदिर प्रांगण में पटोत्सव के मौके पर प्रतिदिन कथा के समय मेडिकल जांच की व्यवस्था की गई है। ट्रस्ट के सचिव सुशील चिराणियां ने बताया कि मेडिकल जांच कैम्प में सेवा फाउंडेशन के सहयोग से प्रतिदिन सैकड़ों लोगो की ब्लड शुगर, बीपी की जांच की जाएगी।

फ्यूचर ऑफ टैक्सटाइल पर सेमिनार

चैम्बर ऑफ कॉमर्स तथा ग्लोबल फैब्रिक रिसोर्स एंड रिसर्च सेंटर (जीएफआरआरसी) की ओर से शुक्रवार को फ्यूचर ऑफ टैक्सटाइल पर सेमिनार का आयोजन किया गया।
जीएफआरआरसी के चेयरमैन गिरधर गोपाल मूंदड़ा ने एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए नए यार्न और फैब्रिक्स पर ध्यान देने की बात कही। कपड़ा उद्यमी भरत गांधी और प्रफुल्ल शाह ने भी
विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर रिलायंस फिलामेन्ट पॉलिएस्टर के प्रमुख रघुनाश शा भी उपस्थित थे।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned