AYODHYA KHUSHI: सूरत में सांझ ढलते ही जगमग-जगमग दीप जले

अयोध्या से चलकर आई खुशियों की बहार से सोसायटी-गली-मोहल्ला हो गए गुलजार

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 05 Aug 2020, 09:00 PM IST

सूरत. अयोध्या में प्रभु श्रीराम मंदिर के भव्य निर्माण का बुधवार दोपहर बारह बजकर चालीस मिनट पर शिलान्यास होते ही सदियों पुराना सपना साकार हो गया और लोगों ने देशभर में खुशियां मनाना शुरू कर दिया। खुशियों की लहर सूरत में भी दौड़ी और उसकी गति बुलेट ट्रेन के जैसी दिखी। 1989, 1990 व 1992 के आंदोलन का साक्षी रहा वराछा में मिनी बाजार के मानगढ़ चौक भगवामय हो गया और आतिशबाजी का गुबार चारों तरफ छा गया। इन सबके बीच जयश्रीराम के नारे गुंजाते विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता केसरिया साफा पहने खुशी से झूमते रहे। खुशी के इस मौके पर कपड़ा बाजार भला कहां पीछे रहने वाला था और वहां भी व्यापारियों ने आतिशबाजी की, मिठाई खिलाई और रामधुन गाए। ऐसा ही नजारा शाम को शहर के विभिन्न इलाकों की सोसायटी-अपार्टमेंट में भी दिखा जहां इमारतें रोशनी से सजी और लोगों ने घरों में दीप जलाकर खुशियां मनाई।
विश्व हिन्दू परिषद महानगर इकाई व अन्य कई समाज-संगठनों की कई दिनों की तैयारियां बुधवार को शहरभर में खुशियों की रोशनी बनकर दमकती नजर आई। अयोध्या से चलकर आई खुशियों ने सूरत की सूरत को शाम ढलते ही खुबसूरत बना दिया और कोरोना महामारी में भी लोग प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण के शिलान्यास की खुशियां मनाने से नहीं चूके।
शहर में मुख्य कार्यक्रम विहिप इकाई की ओर से दोपहर में वराछा के मानगढ़ चौक पर आयोजित किया गया। इसमें कार्यकर्ताओं ने वहां पर शृंगारित श्रीराम मंदिर के समक्ष शिलान्यास मुहूर्त के समय आरती की और आतिशबाजी व मिठाई वितरण के साथ खुशियां मनाई। इस दौरान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद सीआर पाटिल समेत अन्य कई नेता भी मौजूद रहे। इकाई ने खुशी के इस अवसर पर सूरत महानगर के सभी सात जिलों में 27 स्थलों पर मिठाई वितरण, आतिशबाजी व आरती के आयोजन दोपहर में किए। इस दौरान सोशल डिस्टेंस के साथ कार्यकर्ता जमा हुए। खुशी के इस अवसर पर मानगढ़ चौक को भगवा रंग से रंग दिया गया और कार्यकर्ता भी केसरिया साफे में सजकर हाथ में भगवा ध्वज लहराते हुए जयश्रीराम की जय-जयकार करते नजर आए। ऐसे नजारे शहर में सभी उन 27 स्थलों पर दिखाई दिए जहां पर परिषद की ओर से पहले से खुशियां मनाने के कार्यक्रम निर्धारित किए गए थे।


सजे मंदिरों में गूंजी आरती


प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर के शिलान्यास के शुभ अवसर पर बुधवार को शहर के सभी छोटे-बड़े मंदिरों में सजावट की गई और दोपहर में महाआरती के आयोजन हुए। भटार रोड पर शृंगारित श्रीराम मंदिर में प्रभु श्रीराम की आरती उतारी गई। वेसू के श्रीश्याम मंदिर में श्रीरामचरित मानस के अखंड पाठ की पूर्णाहुति हुई और शाम को मंदिर प्रांगण में दीप जलाकर रोशनी की गई। स्वामी विजयानंद महाराज के सानिध्य में श्रीदक्षिणाभिमुखी शनि-हनुमान मंदिर में आरती, मिठाई वितरण आदि के आयोजन हुए। श्रीश्याम युवा टीम परिवार ने कोट विस्तार के प्राचीन गरुड़बाबा मंदिर में 108 दीप जलाकर महाआरती की। रिंगरोड़ पर श्रीसोमोलाई हनुमान मंदिर को भी खुशियों के मौके पर बुधवार को विशेष रूप से सजाया गया।


भारतमाता की झांकी सजी


कपड़ा बाजार में भी बुधवार को जमकर खुशियां मनाई गई। इस मौके पर सूरत टैक्सटाइल मार्केट, जश मार्केट, श्रीराम मार्केट, जयश्रीराम मार्केट, रतन मार्केट, मनीष मार्केट, आसाराम मार्केट, तिरुपति मार्केट, राधाकृष्ण मार्केट, शुभलक्ष्मी मार्केट समेत अन्य में विशेष सजावट की गई। दोपहर में आतिशबाजी, मिठाई वितरण, रामधुन आदि के आयोजन हुए और कपड़ा व्यापारियों ने मार्केट परिसर में भगवा ध्वज लहराते हुए जयश्रीराम के जयकारे गुंजाए। इस अवसर पर आईमाता रोड पर रघुबीर बिजनेस एम्पायर मार्केट में गेंदे के फुलों से भारतमाता की झांकी सजाई गई और बाद में दीप जलाकर मिठाई बांटते हुए खुशियां मनाई गई। इसी तरह से अन्य टैक्सटाइल मार्केट प्रांगण में भी खुशियों के आयोजन किए गए।


सोसायटी-अपार्टमेंट में आई दिवाली


शहर के विभिन्न क्षेत्रों की सोसायटी-अपार्टमेंट में बुधवार रात दीपावली सा नजारा रहा। आवासीय इमारतें रंग-बिरंगी रोशनी से झिलमिलाती रही। हालांकि देर शाम आई बारिश से दीप जलाने के कार्यक्रम में अवश्य व्यवधान पैदा हुआ मगर रात्रि में सोसायटी-अपार्टमेंट की इमारतें रोशनी से खूब दमकी। पालनपुर जकातनाका के पास महेश पटेल नामक व्यक्ति ने सात फीट सात ईंच लम्बी हनुमानजी की रंगोली घर में सजाई। वहीं, आईमाता रोड पर स्वागत कॉम्प्लेक्स, वेसू के वीआईपी रोड पर केपिटल ग्रीन, पाम एवेन्यू, केनाल रोड पर सूर्याग्रीन व्यू, सिटीलाइट में सूर्याप्रकाश, मिलाप रेजिडेंसी, गोडादरा में स्कायव्यू समेत शहर के विभिन्न इलाकों की अनेक सोसायटी-अपार्टमेंट रोशनी से सजाई गई।

Show More
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned