scriptBe careful : Students should be alert during online exam of VNSGU | सावधान : ऑनलाइन परीक्षा दे रहे विद्यार्थी रहे सतर्क | Patrika News

सावधान : ऑनलाइन परीक्षा दे रहे विद्यार्थी रहे सतर्क

- अब कम्प्यूटर ही नकल करने पर परीक्षार्थी को देगा चेतावनी
- तीन बार परीक्षार्थी को मिलेगी कम्प्यूटर से चेतावनी, फिर भी सावधानी नहीं रखने पर अपने आप परीक्षा से विद्यार्थी हो जाएगा बाहर
- वीएनएसजीयू ने नकल को रोकने और नकलचियों को पकडऩे के लिए खास सॉफ्टवेयर किया डेवल्प

सूरत

Published: December 05, 2021 08:13:22 pm

सूरत.
वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय (वीएनएसजीयू) की ऑनलाइन परीक्षा में नकल करना भारी पड़ सकता है। ऑनलाइन परीक्षा दे रहे परीक्षार्थी को अब कम्प्यूटर ही नकल करने पर चेतावनी देगा। परीक्षार्थी को तीन बार चेतावनी दी जाएगी। फिर भी सतर्क नहीं होने पर परीक्षार्थी अपने आप ही परीक्षा से बाहर हो जाएगा। वीएनएसजीयू ने ऑनलाइन परीक्षा में नकल रोकने और नकलचियों को पकडऩे से लिए खास सॉफ्टवेयर डेवलप किया है।
कोरोना का प्रकोप अभी भी गया नहीं है। इसी कारण वीएनएसजीयू ने इस बार भी अपनी परीक्षाएं ऑनलाइन लेने का तय किया है। वीएनएसजीयू ने कोरोना की दूसरी लहर का असर कम होते ही विभागों और कॉलेजों में ऑफलाइन कक्षाएं शुरू कर दी थी। इस दौरान दक्षिण गुजरात में कोरोना के केस आ ही रहे हैं। विद्यार्थियों की सुरक्षा को ध्यान में रख विवि ने इस बार भी कई सेमेस्टर की परीक्षाएं ऑनलाइन लेने की घोषणा की थी। दिवाली वेकेशन समाप्त होते ही परीक्षाएं शुरू कर देने का परिपत्र भी जारी कर दिया था। इस बार सारी ऑनलाइन परीक्षाएं कॉलेज में से ही होगी। इसके लिए कॉलेजों को अलग से व्यवस्था करने का भी आदेश दे दिया गया था। साथ में ऑनलाइन परीक्षा की व्यवस्था करने वाले कॉलेज और निरीक्षकों की ड्यूटी की फीस भी तय कर जारी की गई थी। वीएनएसजीयू ने जब पहली बार ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की थी। तब उसके सामने सबसे बड़ी समस्या नकल की आई थी। इसे रोकने के लिए परीक्षा के नियमों में कई बदलाव किए गए थे। लेकिन नकलचियों को रोक पाना विवि के लिए संभव हो नहीं पाया। इसलिए विवि ने नकल को रोकने और नकलचियों को पकडऩे के लिए एक अनोखा तरीका अपनाया है। अब कम्प्यूटर की नकल करने पर विद्यार्थी को पकड़ लेगा। जिससे विद्यार्थी नकल करते सोचेगा।
- कम्प्यूटर ही बना निरीक्षक:
वीएनएसजीयू ने ऑनलाइन परीक्षा में नकल रोकने के लिए अनोखा सॉफ्टवेयर डेवलप किया है। जिसमें परीक्षा कम्प्यूटर पर ऑनलाइन परीक्षा दे रहे विद्यार्थी को कम्प्यूटर की नकल करते समय चेतावनी देगा। परीक्षा के समय कम्प्यूटर को विद्यार्थी की गतिविधि संदिग्ध लगी तो उसे एक मेसेज मिलेगा। परीक्षार्थी को यह मेसेज चेतावनी के रूप में मिलेगा। इस तरह के मेसेज उसे तीन बार मिलेंगे। फिर भी विद्यार्थी की गतिविधि परीक्षा के समय संदिग्ध लगी तो कम्प्यूटर अपने आप बंद हो जाएगा। विद्यार्थी खुद ही ऑनलाइन परीक्षा से बाहर हो जाएगा।
- इलेक्ट्रॉनिक गैजेट के उपयोग पर रोक
ऑनलाइन परीक्षा के समय विद्यार्थी को किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट का उपयोग नहीं करना है। परीक्षाखंड के कम्प्यूटर के अलावा परीक्षार्थी के पास किसी तरह का इलेक्ट्रॉनिक साधन नहीं होना चाहिए। विद्यार्थी के पास मोबाइल नहीं होना चाहिए। किसी भी तरह का साहित्य नहीं हो, परीक्षा के समय विद्यार्थी किसी से बात करता होगा तो भी नकल का आरोपी बन सकता है। विद्यार्थी के पास हेडफोन या इयरफोन नहीं होना चाहिए। परीक्षा के समय ऑनलाइन अन्य कोई भी विन्डो नहीं खुली होनी चाहिए। किसी भी तरह की सोशल साइट भी ऑन नहीं होनी चाहिए।
- कॉलेज में ही होगी परीक्षाएं
पहली बार जब वीएनएसजीयू ने ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की थी, तब विद्यार्थियों को घर से परीक्षा देने की सुविधा दी थी। इस बार विद्यार्थी को कॉलेज में से ही ऑनलाइन परीक्षा देनी होगी। जिससे नकल के मामले भी कम हो सकेंगे। परीक्षा के बाद पता चलेगा कि नकल के आंकड़ों में कमी आई है या नहीं।
- 1600 विद्यार्थी पाए गए थे नकल के दोषी:
कोरोना समय में वीएनएसजीयू ने पहली बार ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया था। ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन करने से पहले नकल को लेकर कई नए और कड़े नियम जारी किए थे। विद्यार्थियों को घर से ही कम्प्यूटर, मोबाइल, लैपटॉप के माध्यम से परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की थी। लेकिन कई विद्यार्थियों ने इस सुविधा का दुरुपयोग किया। इसका नतीजा यह हुआ की 1600 विद्यार्थी ऑनलाइन परीक्षा के समय नकल के दोषी पाए गए। सभी पर वीएनएसजीयू की ओर से कड़ी कार्रवाई की गई। इसके बाद विवि ने नकल रोकने के लिए नया सॉफ्टवेयर विकसित किया।
ऑनलाइन नकल को रोकने का अनोखा प्रयास
विवि ने ऑनलाइन परीक्षा के दौरान नकल को रोकने के लिए अनोखा प्रयास किया है। विवि ने परीक्षा प्रणाली में नया सॉफ्टवेयर डाउनलोड किया है। जो परीक्षा के दौरान नकल करते दिखने पर या विद्यार्थी की गतिविधि संदिग्ध नजर आने पर उसे तीन बार चेतावनी देगा। तीन बार उसे चेतावनी के रूप में संदेश दिया जाएगा। फिर भी विद्यार्थी की गतिविधि संदिग्ध लगी तो कम्प्यूटर अपने आप बंद हो जाएगा। विद्यार्थी का केस सीधा आचार संहिता के पास चला जाएगा।
- ए.वी.धडुक, परीक्षा नियामक, वीएनएसजीयू

सावधान : ऑनलाइन परीक्षा दे रहे विद्यार्थी रहे सतर्क
सावधान : ऑनलाइन परीक्षा दे रहे विद्यार्थी रहे सतर्क

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टपूनियां हत्याकांड में बड़ा अपडेट : चौथे दिन भी नहीं हुआ पोस्टमार्टम, शव उठाने को लेकर मृतक के भाई के घर पर चस्पा किया नोटिसहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का साया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.