scriptBig negligence in the safety of passengers, bag scanner machine worth | यात्रियों की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही, लाखों रुपए की बैग स्कैनर मशीन खा रही धूल | Patrika News

यात्रियों की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही, लाखों रुपए की बैग स्कैनर मशीन खा रही धूल

- मुम्बई मंडल में अधिक आय वाले सूरत स्टेशन पर यात्रियों के सामान जांच की सुविधा नहीं...

- कोरोना महामारी के पहले से बंद है मशीन, संदिग्धों को जांचने की कोई व्यवस्था नहीं

सूरत

Published: December 07, 2021 10:22:09 pm

संजीव सिंह @ सूरत.

सूरत रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के सामान की जांच के लिए लगाया गया बैग स्कैनर काफी समय से बंद है। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक के दौरे के चलते बैग स्कैनर मशीन को प्लेटफार्म संख्या एक से हटाकर ग्राउंड फ्लोर पर रखा गया था। उम्मीद जताई जा रही थी कि जगह बदलने के बाद रेलवे सुरक्षा बल बैग स्कैनर को कार्यरत करेगा। लाखों रुपए की यह मशीन बिना काम के धूल खा रही है। फिलहाल सूरत स्टेशन पर यात्रियों के सामान की जांच की कोई व्यवस्था नहीं है।
यात्रियों की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही, लाखों रुपए की बैग स्कैनर मशीन खा रही धूल
यात्रियों की सुरक्षा में बड़ी लापरवाही, लाखों रुपए की बैग स्कैनर मशीन खा रही धूल
सूरत रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा बढ़ाने के लिए काफी समय से बैग स्कैनर समेत आधुनिक उपकरणों की मांग की जा रही है। रेलवे की ओर से जो व्यवस्था की गई है, वह ऊंट के मुंह में जीरा साबित हो रही है। कुछ दिन पहले ही उच्च गुणवत्ता वाले सीसीटीवी कंट्रोल रूम का उद्घाटन रेलवे और टैक्सटाइल राज्यमंत्री दर्शना जरदोश ने किया था। सूत्रों ने बताया कि सूरत स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक पर 8 अक्टूबर 2018 को रेलवे पुलिस चौकी तथा रेलवे सुरक्षा बल हेल्प डेस्क के नजदीक एक बैग स्कैनर मशीन लगाई गई थी। कोविड-19 महामारी के चलते मार्च 2020 में ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था। संक्रमण घटने के बाद ट्रेनों का परिचालन पहले की तरह शुरू हो गया है। अब सूरत स्टेशन पर प्रतिदिन 60 हजार से अधिक यात्री आना-जाना कर रहे हैं। बैग स्कैनर मशीन को अब तक शुरू नहीं किया जा सका है।
रेलवे कर्मचारियों ने बताया कि पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक के सूरत दौरे के मद्देनजर प्लेटफार्म संख्या एक से बैग स्कैनर मशीन को ग्राउंड फ्लोर पर शिफ्ट किया गया था। रेलवे ने प्लेटफार्म एक पर यात्रियों के बैठने की जगह बढ़ाने के लिए यह निर्णय किया था। संभावना जताई जा रही थी कि बैग स्कैनर व्यवस्था जल्द ही शुरू होगी। लेकिन अब तक मशीन को कार्यरत नहीं किया गया है। कोरोना के पहले भी जब बैग स्कैनर मशीन चालू स्थिति में थी तब भी कुछ गाडिय़ों के यात्रियों के सामान की ही जांच की जाती थी। प्लेटफार्म एक, 2-3 और 4 पर प्रवेश करने के लिए कुछ अधिकृत रास्ते है, लेकिन कई चोर दरवाजे भी हंै जहां से यात्री आना-जाना करते हैं। इन रास्तों पर यात्रियों के सामान या संदिग्धों पर नजर रखने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। सूरत स्टेशन के लिए अलग-अलग रास्तों से गुजरने वाले यात्रियों की जांच के लिए 5 बैग स्कैनर मशीन की आवश्यकता है। लेकिन सूरत को मिली एक मात्र बैग स्कैनर मशीन भी स्थानीय प्रशासन चालू नहीं कर पा रहा है।

पहले थी व्यवस्था, अब बंद कर दी

पश्चिम रेलवे ने मुम्बई मंडल के स्टेशनों पर बैग स्कैनर मशीन लगाने के लिए मुम्बई की न्यूटेक कंपनी को कॉन्ट्रेक्ट दिया था। सूरत को 5 में से सिर्फ एक मशीन मिली है। इस मशीन की लंबाई 22 फीट, ऊंचाई 8 फीट और चौड़ाई 4 फीट है। बैग स्कैनर पर रेलवे सुरक्षा बल के जवान तीन शिप्ट में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक, दोपहर तीन बजे से रात 11 बजे तक और रात 11 बजे से सुबह सात बजे तक ड्यूटी करते थे। कोरोना के बाद सूरत रेलवे सुरक्षा बल थाने ने जवानों की तैनाती बंद कर दी है।

तकनीकी खामी के कारण बंद है मशीन

बैग स्कैनर मशीन कार्यरत रखने और स्टाफ तैनाती की जिम्मेदारी रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट तथा उनके सीनियर अधिकारियों के अधीन है। जीएम दौरे के पहले मशीन को ग्राउंड फ्लोर पर शिफ्ट किया है। शिफ्टिंग के दौरान मशीन में कोई तकनीकी खामी आ गई थी, जिसके चलते यह बंद है। कंपनी के टैक्नीशियन को मशीन की मरम्मत के लिए सूचना दी गई है।
दिनेश वर्मा, स्टेशन डायरेक्टर, सूरत रेलवे स्टेशन।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

PM Modi आज राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं के साथ करेंगे बातचीत, एक लाख रुपए के साथ मिलेगा डिजिटल सर्टिफिकेटUP चुनाव में अब तक 6705 KG ड्रग्स, 5 लाख लीटर शराब पकड़ी गईCovid-19 Update: देश में बीते 24 घंटों में आए कोरोना के 3.33 लाख नए मामले, 525 मरीजों की गई जानकोरोना ने टीका कंपनियों को लगाई मुनाफे की बूस्टरभारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्रIPL 2022 auction: श्रीसंत को खरीद सकती हैं ये 3 टीमें, मिल सकती है मोटी रकमप्रोफेशनल कांग्रेस के कार्यकारिणी का विस्तार, पद्म विभूषण तीजन बाई और पूर्व क्रिकेटर राजेश चौहान को मिली ये जिम्मेदारीसोना चांदी पॉलिस दुकान का शटर तोड़कर लाखों की चोरी, सीसीटीवी कैमरे से मिला सुराग, यूपी के दो शातिर बदमाश गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.