रोक के बावजूद सरकारी अस्पताल में बायोमेट्रिक उपस्थिति

मंत्रालय ने 31 मार्च तक लगाया प्रतिबंध, स्वास्थ्य विभाग बेखबर

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 19 Mar 2020, 07:54 PM IST

दमण. कोरोना वायरस के प्रति सभी जगह सतर्कता बरती जा रही है और लोग भी जागरूक हो रहे है पर दमण का स्वास्थ्य विभाग मानों सतर्कता से बेखबर बना हुआ है। यहां मोटी दमण के सीएचसी सेंटर में बायोमेट्रिक मशीन चालू है और कर्मचारी अंगुठे से उपस्थिति दर्ज करवा रहे है। जबकि कलक्टर कार्यालय, सचिवालय में बायोमेट्रिक मशीनें बंद है।
सूत्रों के अनुसार मिनिस्ट्री ऑफ पर्सनल पब्लिक ग्रीव्स एंड पेंशन के अंडर सेकेट्री अजय सिंह ने 6 मार्च को एक आदेश जारी कर बताया था कि सरकारी मंत्रालय और सरकारी विभाग में आधार बेज बॉयोमेट्रिक मशीनों से कर्मचारी उपस्थिति 31 मार्च तक बंद रखनी है। इस दौरान कर्मचारियों की उपस्थिति रजिस्टर में दर्ज की जानी है। कोरोना वायरस को लेकर यह सावधानी बरती जा रही है। बॉयोमेट्रिक मशीन पर एक के बाद एक कर्मचारी अगुंठा रखते है, जिससे कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है। इस आदेश के बाद जिला कलक्टर भवन, सचिवालय में बॉयोमेट्रिक मशीन को डिस्कनेक्ट कर दिया था।


सावधानी के निर्देश के बावजूद मशीन चालू


दमण स्वास्थ्य विभाग कोरोना वायरस के बारे में रोजाना आयोजित कार्यशाला में लोगों को सावधानी बरतने के निर्देश दिए जा रहे है, लेकिन विभाग स्वयं इस मामले में लापरवाही बरत रहा है। गुरुवार दोपहर तीन बजे तक मोटी दमण के सीएचसी सेंटर की बायोमेट्रिक मशीनें चालू हालत में दिखी। होस्पीटल के प्रवेश स्थान पर लगी मशीन पर कर्मचारी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते दिखाई दिए।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned