बिटकॉइन मामले की जांच एक्सपर्ट टीम के हवाले

कम्प्यूटर और मोबाइल अनलॉक करेंगे विशेषज्ञ

By: Pradeep Mishra

Published: 09 Feb 2018, 08:57 PM IST


सूरत.

शहर के पंद्रह बिटकॉइन कारोबारियों और निवेशकों के यहां पिछले दिनों की गई आयकर कार्रवाई के मामले की जांच दिल्ली की एक्सपर्ट टीम के हवाले की गई है। दिल्ली से बुलाए गए कम्प्यूटर विशेषज्ञ जब्त कम्प्यूटर और मोबाइल को अनलॉक कर उनमें छिपे कारोबार के रहस्य खोलेंगे। इसी टीम ने बैंगलुरू में बिटकॉइन कारोबारियों के यहां हुई कार्रवाई में कम्प्यूटर डी-लॉक कर करोड़ों के सौदों राज फाश किया था।

बिटकॉइन के कारोबारियों और निवेशकों ने खरीद-बिक्री समेत तमाम जानकारी अपने कम्प्यूटर में छिपा रखी थी। आयकर विभाग ने कार्रवाई के दौरान 25 से अधिक हार्ड ***** और मोबाइल जब्त किए थे। इन्हें नई टैक्नोलॉजी और पासवर्ड से लॉक किया गया, ताकि यह सामान्य जानकार और आयकर अधिकारियों तक नहीं पहुंचे। आयकर अधिकारियों ने इनमें छिपी जानकारी हासिल करने के लिए दिल्ली से आईटी एक्सपर्ट टीम बुलाई है। चार सदस्यों की यह टीम कम्प्यूटर और मोबाइल को डी-लॉक कर उनमें छुपे राज बाहर निकालेगी। बताया जा रहा है कि इसी टीम ने बैंगलुरू में बिटकॉइन कारोबारियों के यहां हुई कार्रवाई में कम्प्यूटर डी-लॉक कर करोड़ों के सौदों राज फाश किया था।

20 लाख का काला धन कबूल किया


आयकर विभाग ने गुरुवार को मगोब के जिस ज्वैलर के यहां सर्वे की कार्रवाई की थी, उसने 20 लाख रुपए का काला धन स्वीकार किया है। आयकर विभाग इन दिनों नोटबंदी में बड़ी रकम जमा कराने वालों पर जांच कर रहा है। आगामी दिनों में भी कार्रवाई जारी रहेगी।
उल्लेखनीय है कि आयकर विभाग पिछले नोटबंदी के दौरान बड़ी रकम जमा करने वालों पर पिछले तीन दिन से जांच कर उनके आय क्रे स्रोत की जानकारी मांग रहा है। शहर सहित दक्षिण गुजरात में 200 से अधिक करदाता है जिन्होंने कि नोटबंदी के दिनों में पांच सौ करोड़ रुपए से अधिक जमा किए थे, आयकर विभाग उन पर जांच की तैयारी कर रहा है। विभाग की इस कार्रवाई के कारण बड़ी रकम जमा करने वालों में हड़कंप मचा है।

 

income tax
Pradeep Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned