भाजपा पार्षद नैंसी सुमरा को जेल भेजा

भाजपा पार्षद नैंसी सुमरा को जेल भेजा

Dinesh M Trivedi | Publish: Sep, 11 2018 12:03:32 PM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 12:03:33 PM (IST) Surat, Gujarat, India

बिल्डर से ७५ हजार रुपए की रिश्वत मांगने का मामला

सूरत. बिल्डर से ७५ हजार रुपए की रिश्वत मांगने के मामले में पिता एवं भाई के साथ फंसी पार्षद नैंसी सुमरा को शनिवार दोपहर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने अदालत में पेश किया। ब्यूरोकर्मियों ने मामले में नैंसी से पूछताछ एवं उसकी भूमिका की जांच के लिए पांच दिन का रिमांड मांगा।

अदालत ने बचाव पक्ष दलीलें सुनने के बाद रिमांड याचिका खारिज कर नैंसी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। उल्लेखनीय है कि निर्माण कार्य में दखल नहीं देने के एवज में नैंसी के पिता मोहन सुमरा व भाई प्रिंस ने एक बिल्डर से ७५ हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। उन्होंने बीस हजार रुपए ले लिए थे। उसके बाद एसीबी ने ५५ हजार रुपए लेते प्रिंस को गिरफ्तार किया था। फिर मोहन सुमरा तथा मामले में नैंसी की लिप्तता सामने आने पर शुक्रवार को उसे भी गिरफ्तार किया गया था। बिल्डर से ७५ हजार रुपए की रिश्वत मांगने का मामला


हार्डवेयर कारोबारियों से १६ लाख की धोखाधड़ी


सूरत. तीन हार्डवेयर कारोबारियों के साथ १६ लाख रुपए की धोखाधड़ी के आरोप में खटोदरा पुलिस ने दो जनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक सचिन अभिषेक सिटी होम्स निवासी उमेश विश्वकर्मा तथा अडाजण कृति अपार्टमेंट निवासी तुषार ठक्कर ने मिलकर डिंडोली सांई दर्शन सोसायटी निवासी रामदयाल शर्मा व दो अन्य कारोबारियों भरत टेलर तथा आशीष पामवाला के साथ धोखाधड़ी की।

सितम्बर-अक्टूबर २०१७ में उन्होंने रामदयाल की जेपी प्लाई एण्ड हार्डवेयर से ४ लाख, ८ हजार रुपए इसी तरह से भरत की जलाराम प्लाई से १२ लाख रुपए व आशीष की रणछोड़ इंटरप्राइज से ५७ हजार रुपए का सामान उधार लिया, लेकिन उसका भुगतान नहीं किया। उन्होंने समय-समय पर दिए चैक बैंक से रिटर्न हो गए। इस पर राजस्थान के बीकानेर जिले के महादेववाली निवासी रामदयाल ने दोनों के खिलाफ शुक्रवार रात खटोदरा थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

 

Ad Block is Banned