पुलिस की धौंस जमा कर छीनते थे मोबाइल-रुपए

पुलिस की धौंस जमा कर छीनते थे मोबाइल-रुपए

Dinesh M.Trivedi | Publish: Sep, 12 2018 12:49:22 PM (IST) Surat, Gujarat, India

एक गिरफ्तार, दूसरा फरार

सूरत. आम लोगों पर पुलिस की धौंस जमा कर जबरन मोबाइल और रुपए छीनने वाले एक युवक को खटोदरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसका साथी फरार है। पुलिस के मुताबिक पांडेसरा पीयुष प्वॉइंट की सीतानगर सोसायटी निवासी प्रकाश सिंह (24) कुछ समय से अपने साथी सूरज के साथ सक्रिय था।

दोनों चौराहे पर खड़े हो जाते थे तथा वाहन चालकों को रोक कर पुलिस केस में फंसाने की धमकी देते थे। फिर उनसे जबरन मोबाइल फोन और रुपए ले लेते थे। बिहार के आरा जिले के ननौर गांव के मूल निवासी प्रकाश के बारे में मुखबिर से सूचना मिलने पर मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

उसके कब्जे से दो मोबाइल फोन और एक मोटर साइकिल बरामद हुई है। प्राथमिक पूछताछ में उसने दो दिन पहले अपने साथी सूरज के साथ खरवरनगर सर्किल पर दो युवकों को डरा-धमका कर उनसे मोबाइल लेना कबूल किया है। बरामद मोटर साइकिल भी कुछ समय पहले चुराई गई थी।

३०.५५ लाख रुपए के गबन

सूरत. उधना क्षेत्र की एक शैक्षणिक संस्था की महिला खजांची पर छह माह के दौरान हिसाब में घोटाला कर ३०.५५ लाख रुपए के गबन का आरोप लगा है। संस्था के संचालक की प्राथमिकी के आधार पर उधना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


पुलिस के मुताबिक उधना गाम गायत्री सोसायटी में कृष्णा अपार्टमेंट निवासी दीपांजली पोलाई ने उधना लियो क्लासेज में घोटाला किया। संस्था द्वारा संचालित सनरेज स्कूल, लियो स्कूल ऑफ साइंस एण्ड कॉमर्स और लियो इंस्टीट्यूट ऑफ एज्युकेशन के लिए फीस कलेक्शन का काम करने वाली दीपांजली ने फरवरी से २१ जुलाई के दौरान घपला किया।

उसने अपनी तथा एक सहकर्मी भूमिका लालवाला की आइडी के जरिए संस्था में पढऩे वाले छात्रों के अभिभावकों से फीस के ३० लाख ५५ हजार ८४० रुपए ले लिए और उन्हें हाथ से बनी कच्ची रसीदें दे दीं। उसने राशि संस्था की कैश बुक में जमा नहीं करवाई और निजी उपयोग में ले ली। एक अभिभावक को फर्जी रसीद बना कर दी गई।

बाद में कंप्यूटर में छेड़छाड़ कर पुरानी तारीखों में फीस जमा करवाने का प्रयास किया। जुलाई में यह घपला संस्था के संचालक अडाजण ग्रीन हिल्स निवासी जयसुख परषोत्तम कथीरिया के सामने आया तो उन्होंने अभिभावकों से पूछताछ की।

उनके पास कच्ची और फर्जी रसीदें मिलीं। मामले की पड़ताल के बाद उन्होंने उधना थाने में दीपांजली के खिलाफ लिखित शिकायत दी। इसके आधार पर पुलिस ने सोमवार रात मामला दर्ज कर लिया।

 

Ad Block is Banned