भरुच, नर्मदा एवं बारडोली में बंद का व्यापक असर

भरुच, नर्मदा एवं बारडोली में बंद का व्यापक असर

Sanjeev Kumar Singh | Publish: Sep, 10 2018 09:29:50 PM (IST) Surat, Gujarat, India

स्कूलों को कराया बंद, हाइवे पर टायर जलाकर किया प्रदर्शन

अधिकांश क्षेत्रों में लोगों ने रखी अपनी प्रतिष्ठान बंद, करीब तीन दर्जन कांग्रेस कार्यकर्ता गिरफ्तार

भरुच.

पेट्रोलियम पदार्थों में लगातार हो रही मूल्यवृद्धि के विरोध में सोमवार को कांग्रेस और अन्य दलों की ओर से किए गए भारत बंद का व्यापक असर भरुच और नर्मदा जिले में देखने को मिला। भरुच और नर्मदा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में बंद शांतिपूर्ण रूप रहा। कई लोगों ने स्वयं अपनी प्रतिष्ठानों को बंद कर भारत बंद का समर्थन किया। भरुच शहर में हालाकि ऑटोरिक्शा सडक़ पर चले, लेकिन दोपहर बाद इनकी भी संख्या काफी कम हो गई थी। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भरुच से दहेज राष्ट्रीय मार्ग और नबीपुर के पास राष्ट्रीय मार्ग पर सडक़ पर टायर जलाकर हाइवे को कुछ देर के लिए जाम किया। दहेज में विभिन्न कंपनियों में कर्मचारियों को लेकर जाने वाली बसों की हवा निकाल दी गई थी जिससे कंपनी के कर्मचारियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। भरुच शहर में बंद कराने के लिए निकले तीन दर्जन से ज्यादा कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया। शहर में कुछ क्षेत्रों में पुलिस के साथ कार्यकर्ताओं की हल्की नोंकझोंक भी हुई।
भरुच जिले में कांग्रेस और अन्य दलों के कार्यकर्ताओं ने पेट्रोलियम पदार्थ में लगातार हो रही मूल्य वृद्धि को लेकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

 

भारत बंद के ऐलान पर सुबह अधिकांश लोगों ने अपने प्रतिष्ठानों को बंद ही रखा। वहीं ज्यादातर स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया था, लेकिन जिन स्थानों पर स्कूल खुले दिखे वहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बंद करा दिया। स्कूल बंद होने से स्कूल के बाहर बच्चों की भीड़ जमा हो गई थी। कई स्कूली बच्चे अपने अभिभावकों के साथ घर जाते दिखे तो कई रिक्शे के इंतजार में बाहर खड़े नजर आए। स्कूलों के बाहर पुलिस का पहरा लगाया गया था लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध को देख शाला के प्राचार्यों ने स्कूलों को बंद कर देने में ही भलाई समझी।

 


भरुच शहर के पांचबत्ती, मोहम्मदपुरा, बायपास, जाडेश्वर, तुलसीधाम सहित विभिन्न क्षेत्र में बंद का व्यापक असर देखा गया। शहर के पश्चिम क्षेत्र में सभी दुकानें पूरी तरह से बंद रही। एपीएमसी मार्केट भी पूरी तरह से बंद रहा। सुबह सडक़ों पर दौड़ रही आटोरिक्शाओं को ढाल के पास कांग्रेसियों ने रोक दिया, जिसके बाद रिक्शों के आने जाने में कमी आ गई थी। रिक्शों के कम चलने से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई लोग पैदल ही जाते देखे गए।

 

भरुच से दहेज मार्ग पर बाइपास और दहेगाम के पास कंपनियों के कर्मचारियों को लेकर जाने वाली बसों को रोका गया तथा टायर की हवा निकाल दी गई थी। भारत बंद को लेकर भरुच-दहेज मार्ग काफी देर तक बाधित रहा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यहां पर सडक़ के बीच टायर जलाकर प्रदर्शन किया। वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग पर नबीपुर के पास जाम कर दिया गया, वहां भी टायरों को जलाकर रास्ता बंद कर दिया गया। बाद में पुलिस ने करीब आधा दर्जन क ांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया।

 

पुलिस ने बंद कराने के लिए निकले पूर्व जिला कांग्रेस प्रमुख राजेन्द्र रना और अन्य नेताओं को रेलवे स्टेशन भरुच के सामने से गिरफ्तार कर लिया। जिला कांग्रेस प्रमुख परिमल सिंह रना के साथ एक दर्जन कांग्रेस कार्यकर्ताओं को एमके कॉलेज के पास से उस वक्त गिरफ्तार किया गया जब कॉलेज बंद कराने का प्रयास किया जा रहा था। भरुच हाइवे पर युवक कांग्रेस प्रमुख शेरखान पठाण गाडिय़ों के काफिले के साथ मुलद टोल प्लाजा पहुंचे और हाइवे को जाम करने का प्रयास किया। १५ मिनट तक टोल प्लाजा पर भागमभाग वाला दृश्य देखा गया। स्थल पर तैनात पुलिस के जवानों ने कांग्रेसियों को पकडक़र जीप में डाल दिया था। यहा पर टायर जलाने के प्रयास को पुलिस ने विफल कर दिया।

 

भरुच शहर के अलावा अंकलेश्वर, जंबूसर, हांसोट, पालेज, नबीपुर, आमोद, वागरा, झगडिया, नेत्रंग, वालिया, उमल्ला, झगडिया में भारत बंद का व्यापक असर रहा। ग्रामीण बाजारों में सभी दुकानें पूरी तरह से बंद रही। लोग चायपान के लिए भी तरस गए। नर्मदा जिले के राजपीपला सहित देडियापाडा, सागबारा, सेलंबा, तिलकवाडा में बंद पूरी तरह से सफल रहा। शांतिपूर्ण ढंग से भारत बंद होने पर नर्मदा जिले के कांग्रेस नेताओं ने जनता के साथ व्यापारियों को आभार जताया।

Ad Block is Banned