पुलिस की पिटाई से मौत का मामला : समझौते के लिए दबाव डालने पर मृतक के परिजनों ने किया हंगामा

पुलिस की पिटाई से मौत का मामला : समझौते के लिए दबाव डालने पर मृतक के परिजनों ने किया हंगामा

Sandip Kumar N Pateel | Updated: 04 Jun 2019, 10:09:55 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

कड़े बंदोबस्त के बीच सौंपा गया शव

सूरत. खटोदरा थाने में पुलिस की पिटाई से मारे गए ओमप्रकाश पांडेय का शव मंगलवार को कड़े पुलिस बंदोबस्त के बीच उसके परिजनों को सौंप दिया गया। इस दौरान किसी ने परिजनों पर समझौते के लिए दबाव बनाया तो उन्होंने पोस्टमार्टम रूम पर जमकर हंगामा मचाया। हालांकि पुलिस ने मामला संभाल लिया।

 


खटोदरा पुलिस 30 मई को चोरी के आरोप में संदिग्ध के तौर पर ओमप्रकाश पांडेय, रामगोपाल पांडेय और जयप्रकाश पांडेय को उठा ले गई थी। थाने में तीनों को अवैध तरीके से बंदी बनाकर बेरहमी से पीटा गया, जिससे गंभीर रूप से घायल ओमप्रकाश की मौत हो गई थी। खटोदरा पुलिस निरीक्षक समेत आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। ओमप्रकाश का शव न्यू सिविल अस्पताल में फोरेंसिक पोस्टमार्टम के बाद मंगलवार सुबह परिजनों को सौंप दिया गया। शव सौंपते वक्त किसी तरह का हंगामा न हो, इसलिए पुलिस जवानों को तैनात कर दिया गया था। इसके बावजूद पोस्टमार्टम रूम पर एक व्यक्ति ने पुलिस की पैरवी करते हुए ओमप्रकाश के परिजनों से समझौता करने के लिए कहा तो उन्होंने हंगामा मचा दिया। पुलिस ने मामला शांत किया। इसके बाद शव को अंत्येष्टि के लिए ले जाया गया।

 


फरार पुलिसकर्मियों का कोई सुराग नहीं

 


चोरी की आशंका में युवक को अवैध रूप से हिरासत में लेकर उसकी हत्या करने के मामले में फरार पुलिस निरीक्षक समेत आठ पुलिसकर्मियों का पुलिस कोई सुराग नहीं लगा पाई है। पुलिस अधिकारी आरोपियों की खोजबीन जारी रहने का राग अलाप रहे है। उनका कहना है कि पुलिस की अलग-अलग टीमें सक्रिय हैं। इसके अलावा अन्य सूत्रों से भी उन तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned