नीरव मोदी की तीन यूनिट पर सीबीआई और ईडी का छापा

Pradeep Mishra

Publish: Feb, 15 2018 08:37:10 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 09:23:38 PM (IST)

Surat, Gujarat, India
नीरव मोदी की तीन यूनिट पर सीबीआई और ईडी का छापा

पीएनबी में बारह हजार करोड़ के घोटाले की जांच

सीबीआई और ईडी की संयुक्त कार्रवाई, जब्त किए दस्तावेज

 

सूरत.

पंजाब नेशनल बैंक के साथ बारह हजार करोड़ रुपए के घोटाले में सीबीआई और ईडी ने सूरत में मुख्य आरोपी नीरव मोदी की तीन यूनिट पर गुरुवार को संयुक्त छापा मारा। सुबह शुरू हुई जांच में विभाग ने शाम तक बड़े पैमाने पर स्टॉक के दस्तावेज जब्त किए। अधिकारियों ने मैनेजर तथा अन्य कर्मचारियों से पूछताछ की और स्टॉक के दस्तावेज जब्त किए।


पीएनबी के कुछ अधिकारियों के साथ मिलीभगत में नीरव मोदी को गलत तरीके से लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) दिए जाने के बाद यह घोटाला हुआ। इस एलओयू के आधार पर नीरव मोदी और उनके सहयोगियों ने भारत और विदेश के बैंकों से कर्ज लिया था। वर्ष 2011 से शुरू हुई यह धोखाधड़ी सामने आने के बाद बैंक ने इसकी शिकायत की। इसके बाद सीबीआई, ईडी सहित अन्य जांच एजेंसियों ने जांच शुरू की है। गुरुवार को सूरत में स्पेशल इकोनॉमिक जोन में नीरव मोदी की फायर स्टार नाम की डायमंड ज्वैलरी मेन्युफैक्चरिंग की दो यू्निट तथा बेल्जियम स्कवॉयर में एक यूनिट पर जांच शुरू की गई। सीबीआई और ईडी के 30 से अधिक अधिकारियों की टीम सुबह ही यूनिट पर पहुंच गई थीं। दो यूनिट में लगभग 1300 कर्मचारी काम करते हैं। अधिकारियों ने मैनेजर तथा अन्य कर्मचारियों से पूछताछ की और स्टॉक के दस्तावेज जब्त किए। सुबह शुरू हुई जांच में विभाग ने शाम तक बड़े पैमाने पर स्टॉक के दस्तावेज जब्त किए।


हीरा उद्यमी स्तब्ध
सीबीआई और ईडी यह जानकारी जुटा रहे हैं कि यहां कितना कारोबार होता था और किन पार्टियों से माल आयात किया जाता था। निर्यात की जानकारी भी जुटाई जा रही है। नीरव मोदी हीरा कारोबार में बड़ा नाम माना जाता है। पंजाब बैंक के घोटाले मेें नाम जुडऩे और उनकी यूनिट पर छापे की खबर फैलने से सूरत के हीरा उद्यमी स्तब्ध हैं। बताया जा रहा है कि घोटाले का आंकड़ा बारह हजार करोड़ रुपए से अधिक हो सकता है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned