सीबीएसइ के 75 प्रतिशत नियम से बढ़ी परीक्षार्थियों मुश्किल

- सीबीएसइ बोर्ड परीक्षार्थियों की बढ़ी मुश्किल
- 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति होने पर नहीं दे पाएंगे बोर्ड परीक्षा
- सीबीएसइ नहीं जारी करेगा हॉल टिकट, स्कूलों से 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों की उपस्थिति की जानकारी मांगी

 

By: Divyesh Kumar Sondarva

Published: 06 Jan 2020, 08:12 PM IST

सूरत.

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसइ) के एक नए परिपत्र ने सीबीएसइ स्कूलों में हड़कंप मचा दिया है। इस परिपत्र के चलते बोर्ड परीक्षार्थियों की मुश्किल बढ़ गई है। कक्षा में 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति होने पर विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा नहीं दे पाएंगे। केन्द्रीय बोर्ड ने सभी स्कूलों से 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों की कक्षा में उपस्थिति की जानकारी मांगी है। 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति होने पर विद्यार्थी का बोर्ड परीक्षा का हॉल टिकट जारी नहीं किया जाएगा।

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 15 फरवरी से परीक्षा शुरू हो रही है। १०वीं बोर्ड की परीक्षा 20 मार्च और 12वीं की परीक्षा 30 मार्च तक चलेगी। बोर्ड परीक्षा के लिए विद्यार्थियों के ऑनलाइन फॉर्म भरे जा चुके हैं। सभी विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा की तैयारी में जुट गए हैं। इस बीच सीबीएसइ ने परिपत्र जारी कर बताया कि परीक्षा में बैठने वाले 10वीं और 12वीं की कक्षा में विद्यार्थी की उपस्थिति 75 प्रतिशत जरूरी है।

कक्षा में इससे कम उपस्थिति होने पर विद्यार्थी को परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा। विद्यार्थी का हॉल टिकट ही जारी नहीं किया जाएगा। सीबीएसइ ने सभी स्कूलों से 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों की कक्षा में उपस्थिति की जानकारी 7 जनवरी तक मांगी है। विद्यार्थी की कक्षा में 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति हुई तो उसे कक्षा में अनुपस्थिति का ठोस कारण देना होगा। कारण के साथ प्रमाण भी प्रस्तुत करना होगा। इस प्रमाण और कारण को रीजनल ऑफिस में जमा करने होंगे। रीजनल ऑफिस फिर तय करेगा कि विद्यार्थी को हॉल टिकट जारी करना है या नहीं, परीक्षा में बैठने की अनुमति देनी है या नहीं।

- ट्यूशन के चक्कर में स्कूल से दूर
10वीं और 12वीं परीक्षा का विद्यार्थियों पर इतना तनाव हो जाता है कि विद्यार्थी स्कूल से ज्यादा ट्यूशन पर विश्वास करता है। स्कूल में जाने की जगह पूरा समय ट्यूशन में दिया जाता है। इस कारण कई विद्यार्थियों की 10वीं और 12वीं की कक्षा में कम उपस्थिति दर्ज होती है।

- मांगी है जानकारी
सीबीएसइ ने परीक्षा से पहले 10वीं और 12वीं बोर्ड के विद्यार्थियों की कक्षा में उपस्थिति की जानकारी मांगी है। 75 प्रतिशत से कम उपस्थिति होने पर विद्यार्थी को परेशानी हो सकती है। जल्द ही जानकारी बोर्ड को भेजने का आदेश मिला है।
दिनेश गुप्ता, प्राचार्य, केन्द्रीय विद्यालय, अहमदाबाद

Divyesh Kumar Sondarva Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned