शिक्षक दिवस विशेष : यू-ट्यूब पर बनाई चैनल, ताकि विद्यार्थियों को मिल सके स्कॉलरशिप

शिक्षक दिवस विशेष : यू-ट्यूब पर बनाई चैनल, ताकि विद्यार्थियों को मिल सके स्कॉलरशिप

Sandip Kumar N Pateel | Publish: Sep, 04 2018 10:29:50 PM (IST) Surat, Gujarat, India

नपा शिक्षक नरेश महेता का बेहतरीन प्रयास, एनएमएमएस और एनटीएसइ स्कॉलरशिप परीक्षा के लिए जागरूक कर रहे शिक्षक नरेश महेता

सूरत. विभिन्न प्रतियोगी और स्कॉलरशिप परीक्षाओं की तैयारियों के लिए जहां ट्यूशन क्लासेज और एज्युकेशनल इंस्टीट्यूट हजारों रुपए की फीस वसूलते हैं, वहीं, नगर प्राथमिक शिक्षा समिति के एक शिक्षक ऐसे हंै, जो यू-ट्यूब पर अपनी चैनल बनाकर स्कॉलरशिप परीक्षा के लिए अभिभावक और विद्यार्थियों को जागरूक करने के साथ ही प्रशिक्षित भी कर रहे है। नरेश महेता नामक यह शिक्षक न.पा. की स्कूल नंबर 114 के प्रिन्सिपाल पद पर कार्यरत हंै।

 


शिक्षक नरेश महेता ने एमएचआरडी और एनसीइआरटी की ओर से ली जाने वाली स्कॉलरशिप परीक्षा की तैयारियों के लिए यू-ट्यूब पर पारस संकुल के नाम से चैनल बनाया है। वे अब तक इन परीक्षाओं से सम्बंधित 60 से अधिक वीडियो अपलोड कर चुके हैं और आगे भी यह कार्य जारी रखा है। नरेश महेता का कहना है कि एमएचआरडी और एनसीइआरटी की ओर से ली जाने वाली स्कॉलरशिप परीक्षाओं के बारे में अभिभावक और विद्यार्थियों को कम ही पता है। वहीं, स्कूलें भी झंझट से बचने के लिए इन परीक्षाओं की जानकारी अभिभावक और विद्यार्थियों को नहीं देती हैं। ऐसे में कई काबिल विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप का लाभ नहीं मिल पा रहा है। अधिकाधिक विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप का लाभ मिले, इस लिए उनका यह एक प्रयास है। सभी को रू-ब-रू जाकर पढ़ाना या इन परीक्षाओं के बारे में बताना संभव नहीं होने से सोशल मीडिया के इस प्लेटफार्म को चुना और उस पर परीक्षा संबंधित वीडियो अपलोड कर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन देने का प्रयास कर रहा हूं।


क्या है एनएमएमएइ और एनटीएससीइ परीक्षा


शिक्षक नरेश महेता ने बताया कि विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप का लाभ मिल सके, इसलिए भारत सरकार के एमएचआरडी विभाग और एनसीइआरटी की ओर से कक्षा 8 के विद्यार्थियों के लिए नेशनल मिन्स कम मैरिट स्कॉलरशिप और कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों के लिए नेशनल टेलेंट सर्च एग्जाम तथा एसइबी की ओर से कक्षा 6 और 9 के लिए भी स्कॉलरशिप परीक्षा ली जाती है। इन परीक्षाओं में मैरिट के साथ उत्तीर्ण होने वाले कक्षा आठ के विद्यार्थियों को 4 साल तक प्रतिवर्ष 12 हजार, कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों को 11वीं और 12वीं की पढ़ाई के लिए प्रतिवर्ष 15-15 हजार रुपए और कॉलेज के प्रथम वर्ष से स्नातक तक की पढ़ाई के लिए प्रतिवर्ष 24 हजार तक की स्कॉलरशिप मिलती है।

Ad Block is Banned