scriptChikligar gang leader Rajveer Singh arrested in surat | चिकलीगर गैंग का सरगना राजवीर सिंह गिरफ्तार | Patrika News

चिकलीगर गैंग का सरगना राजवीर सिंह गिरफ्तार

- सात साल से थी तलाश
- पुलिस पर हमले समेत 26 से अधिक मामलों में लिप्त
- पीसीबी पुलिस की टीम ने भेस्तान आवास के गेट से पकड़ा

 

सूरत

Published: April 07, 2022 04:51:37 pm

सूरत. पुलिस पर हमले समेत चोरी, वाहन चोरी के 26 मामलों में लिप्त चिकलीगर गिरोह को मुख्य सूत्रधार राजवीर सिंह को पीसीबी पुलिस ने भेस्तान आवास से पकडऩे में सफलता हासिल की है। राजवीर उर्फ रोशनसिंह टांक की पुलिस को पिछले सात वर्षो से तलाश थी।
चिकलीगर गैंग का सरगना राजवीर सिंह गिरफ्तार
चिकलीगर गैंग का सरगना राजवीर सिंह गिरफ्तार
पीसीबी थाना प्रभारी संजय भाटिया ने बताया कि डिंडोली भेस्तान आवास निवासी आरोपी राजवीर सिंह उर्फ रोशन सिंह टांक (33) 2014 से सूरत शहर, सूरत ग्रामीण व नवसारी जिले में अपराधिक घटनाओं को अंजाम देने में सक्रिय है। उसने अपने रिश्तेदारों और मित्रों को मिला कर चिकलीगर गिरोह बना रखा है।
यह गिरोह मुख्य रूप से वाहनचोरी व बंद घरों और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में चोरी करता है। पहले ये लोग वाहन चुराते हैं फिर उस वाहन का इस्तेमाल कर रात में बंद घरों व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों से कीमती सामान चुराते हैं।
राजवीर और उसके गिरोह के खिलाफ शहर के महिधरपुरा, खटोदरा, अडाजण, उधना, उमरा, इच्छापोर, अठवालाइन्स, लिम्बायत व वराछा के अलावा कामरेज व नवसारी ग्रामिण में 26 मामले दर्ज हो चुके हैं। इनमें 14 घरों में चोरी, 11 वाहन चोरी व एक पुलिस पर जानलेवा हमले का मामला शामिल हैं।
इस गिरोह के अन्य कई सदस्य तो पकड़े गए थे लेकिन मुख्यसूत्रधार राजवीर सिंह फरार था। पुलिस को लंबे समय से उसकी तलाश थी और पीसीबी पुलिस की टीम मुखबिरो ंको सतर्क कर उसकी जानकारियां जुटा रही थी। इस बीच पीसीबी को एक मुखबिर से सूचना मिली कि राजवीर सिंह भेस्तान आवास स्थित अपने घर लौटा है।
वह भेस्तान आवास में ही मौजूद है। सूचना की तस्दीक कर पुलिस ने एक टीम तैयार की। पुलिस ने गुप्त रूप से पूरे इलाके कॉर्डन किया और फिर राजवीर सिंह को धर दबोचा। थाने लाकर पूछताछ में उसने अपने अपराध कबूल कर लिए।
क्राइम ब्रांच पर किया था हमला

पुलिस ने बताया कि राजवीर और उसके चिकलीगर गिरोह ने 2019 में उधना थानाक्षेत्र में क्राइम ब्रांच की टीम पर जानलेवा हमला किया था। वे एक कार चुराने के बाद रात में चोरी करने के इरादे से निकले थे। उस दौरान क्राइम ब्रांच की टीम ने उन्हें रोकने का प्रयास किया।
इस पर उन्होंने पुलिस टीम पर जान लेवा हमला किया। इस घटना में राजवीर को मौके से फरार हो गया था। इस घटना के बाद पुलिस गिरोह में शामिल उसके ससुर घुंघरूसिंह, भाई नानकसिंह व अन्य सदस्यों को गिरफ्तार किया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईउदयपुर नव संकल्प पर अमल: अब कांग्रेस भी बनेगी 'प्रोफेशनल', देशभर में 6500 पूर्णकालिक कार्यकर्ता नियुक्त करने की तैयारीअमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, पाकिस्तान भेजते थे भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारीहरियाणा के झज्जर में फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 3 की मौत 11 घायलAzam Khan gets interim bail : आजम खान को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, 89वें केस में मिली अंतरिम जमानत'राज ठाकरे को कोई नुकसान पहुंचाएगा तो पूरा महाराष्ट्र जलेगा', मुंबई में पोस्टर लगाकर MNS ने दी चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.