चिटफंड कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज

विभिन्न स्कीम में निवेश के बहाने लोगों के करोड़ों रूपए हजम करने वाली चिटफंड कंपनी ऑस्कर मैनेजमेंट

By: मुकेश शर्मा

Published: 05 Jun 2015, 11:42 PM IST

सूरत।विभिन्न स्कीम में निवेश के बहाने लोगों के करोड़ों रूपए हजम करने वाली चिटफंड कंपनी ऑस्कर मैनेजमेंट सर्विस लिमिटेड के चेयरमैन और वाइस चेयरमैन समेत सात जनों के खिलाफ उधना पुलिस ने 35 करोड़ रूपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।


पुलिस ने बताया कि उधना हरिनगर विभाग-2 निवासी राजेन्द्र रमेश विरास नाम के पीडित की शिकायत पर भेस्तान वंृदावन सोसायटी निवासी ऑस्कर कंपनी के चेयरमैन रविन्द्रप्रसाद पंचुचरण स्वाई, वाइस चेयरमैन प्रमोद कुमार ढल, पांडेसरा दीनदयाल नगर निवासी अशोक कुमार नीहर राउत, अडाजण खोडियारनगर निवासी परीक्षित दीनबंधु नायक, अमरोली निवासी जगदीश जुगलकिशोर राउत, पांडेसरा उमियानगर निवासी कंपनी के डायेक्टर तथा ब्रांच मैनेजर अरूणकुमार पांडा और अजय कुमार प्रधान के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।


अभियुक्तों पर आरोप है कि उन्होंने उधना बस डिपो शॉपिंग सेंटर तथा शहर के अलग-अलग इलाकों में कंपनी के कार्यालय शुरू किए और एजेंटों के जरिए लोगों से विभिन्न स्कीम में निवेश करवाया। उन्होंने लोगों को झांसा दिया कि निवेश करने पर उन्हें मियाद पूरी होने के बाद ब्याज के साथ रूपए लौटाए जाएंगे। वर्ष 2013 से फरवरी 2015 तक उन्होंने ग्राहकों से करीब 35 करोड़ रूपए निवेश करवाए और जब ब्याज के साथ रूपए लौटाने की बारी आई तो कार्यालय पर ताला लगाकर फरार हो गए।

ठगी का शिकार हुए निवेशकों ने कंपनी के कार्यालयों में तोड़फोड़ कर हंगामा मचाया था और पुलिस आयुक्त को अभियुक्तों के खिलाफ शिकायत देकर मामला दर्ज करने की गुहार लगाई थी। गुरूवार शाम उधना पुलिस ने अभियुक्तों के खिलाफ 35 करोड़ रूपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया।
Show More
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned