एस्ट्रोन ग्रुप के जगदीश बाबरिया को सीआइडी ने किया गिरफ्तार

 


- विभिन्न हाउसिंग प्रोजेक्ट में 32 निवेशकों से 3 करोड़ की धोखाधड़ी

By: Dinesh M Trivedi

Published: 25 Oct 2020, 01:15 PM IST

सूरत. अलग अलग हाउसिंग व कॉमर्शियल प्रोजेक्ट में निवेश करवा कर 32 निवेशकों से 3.04 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी में लिप्त एस्ट्रोन ग्रुप के जगदीश बाबारिया को सीआइडी क्राइम ने गिरफ्तार किया है।

सीआइडी सूत्रों के मुताबिक डिंडोली वृंदावन हाइट्स निवासी जगदीश बाबरिया ने एस्ट्रोन ग्रुप के डवलपर सरथाणा श्रद्धा रो हाउस निवासी दीपेश राजपूत व संजय पटेल के साथ मिल कर भीमराड़ केनाल रोड ईको प्वाइंट निवासी निवेशक प्रवीण शाह व अन्य निवेशकों के साथ धोखाधड़ी की थी।

उधना दरवाजा स्थित यूटीसी बिल्डिंग में कार्यालय चलाने वाले आरोपियो ने सचिन में सर्वे नम्बर 483 स्थित परवेज सचिन वाला की जमीन पर एस्ट्रोन कुंज के नाम से प्रोजेेक्ट शुरू किया था। फ्लैट व दुकानों के लुभावने विज्ञापन देकर कर्मचारियों व दलालों के मार्फत किश्तों में फ्लैट व दुकानधारकों से निवेश करवाया था।

उन्हें बुकिंग राशि लेकर किश्तों की भरपाई के लिए डायरियां व रसीदें भी बना कर दी थी। निवेशकों से कुल 52 लाख 44 हजार लिए थे लेकिन न तो उन्हें प्रोजेक्ट पूरा करके दिया और न ही उनकी निवेश की गई राशि लौटाई। इस बारे में शिकायत मिलने पर सीआइडी ने पिछले साल मामला दर्ज किया था। इस मामले की पड़ताल के बाद शुक्रवार को जगदीश को क्राइम ब्रांच से हिरासत में लेकर गिरफ्तार किया गया और शनिवार को अदालत में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है।

यहां उल्लेखनीय है कि आरोपियों के खिलाफ वेलंजा में एस्ट्रोन पैलेस, कामरेज में एस्ट्रोन ग्रीन, कोसाड़ भरथाणा में एस्ट्रोन सिटी, कीम में एस्ट्रोन रेजिडेंसी को लेकर 3 करोड़ 4 लाख 49 हजार रुपए की धोखाधड़ी के मामले दर्ज हो चुके है।

बाबरिया गोल्ड लोन धोखाधड़ी के मामले में भी पकड़ा गया था। बाबरिया व उसकी पत्नी हिना के खिलाफ नकली सोना गिरवी रख कर लोन लेने की धोखाधड़ी के मामला भी दर्ज हो चुका है। जिसमें क्राइम ब्रांच ने उसे गिरफ्तार किया था।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned