कांग्रेस नेता ने मांगा पुलिस प्रोटेक्शन

जमीन विवाद में जाफर दरगाहवाला पर लगाया हमले का आरोप

By: Sunil Mishra

Published: 10 Mar 2019, 09:22 PM IST


नवसारी. पांच मार्च को हुए जानलेवा हमले में घायल कांग्रेस नेता फारुक गामा ने पुलिस प्रोटेक्शन की मांग की है। उन्होंने 25 करोड़ रुपए के जमीन विवाद में जाफर दरगाहवाला पर हमला करवाने का आरोप लगाया है। रविवार को कांग्रेस नेता फारुक गामा ने मीडिया से कहा कि उनकी मांग पर अभी तक पुलिस ने उन्हें प्रोटेक्शन नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि सोमवार को अस्पताल से छुट्टी मिलने पर एसपी कार्यालय जाएंगे और अनुरोध करेंगे कि यदि पुलिस सुरक्षा नहीं दे सकते तो जेल में डाल दें। उन्होंने इस दौरान एनआरआई जाफर दरगाहवाला पर बिलाल पासपोर्ट द्वारा 25 करोड़ की जमीन विवाद में हमला करवाने का आरोप लगाया है।
जानकारी के अनुसार कुछ माह पूर्व जाफर दरगाहवाला की जमीन के पास आदिवासियों के मकान को हटाने के विवाद में फारुक गामा ने आदिवासियों के समर्थन में कलक्टर को ज्ञापन दिया था। पुलिस और प्रशासन से जाफर दरगाहवाला और नवसारी के एक आर्किटेक्ट के खिलाफ एट्रोसिटी का मामला दर्ज करने की मांग भी की। इसके बाद जमीन विवाद का निपटारा करने के लिए फारुक पर दस लाख रुपए की फिरौती मांगने की शिकायत जाफर दरगाहवाला की ओर से बिलाल पासपोर्ट ने सिटी थाने में दर्ज कराई थी। उस दौरान भी फारुक ने जान पर खतरा होने की शिकायत पुलिस से की थी। दूसरी तरफ फारुक ने मीडिया के सामने जाफर दरगाहवाला पर हमला करवाने का आरोप लगाया है, लेकिन पुलिस को दिए अपने बयान में किसी पर आशंका नहीं जताई है।

आरोपी का रहा है आपराधिक रिकार्ड
कांग्रेस नेता फारुक गामा पर हमले का एक आरोपी साजिद उर्फ गुड्डू गिरफ्तार हो चुका है। उसका दो दिन का रिमांड प्राप्त कर पुलिस ने हमला करने में शामिल फरार आरोपी अलफाज मोहम्मद रफीक शेख के बारे में जानकारी हासिल की। इसके अनुसार अलफाज मूलत: बारडोली का रहने वाला है और उसके माता पिता नहीं है। कम उम्र से ही वह शराब की हेराफेरी में लग गया था और ट्रेन में शराब लाकर सूरत चौक बाजार में बेचने और बूटलेगरों को पहुंचाता था। उसके खिलाफ चौक बाजार थाना, वलसाड, वापी थाने में कई मामले दर्ज हैं। पुलिस ने उसे पकडऩे के लिए कई जगहों पर दबिश दी, लेकिन वह हाथ नहीं लगा। दूसरी तरफ यह भी सामने आया है कि फारुक गामा पर हमला कर भागने के दौरान जब साजिद पकड़ा गया तो अलफाज भागकर साजिद की ससुराल भरुच पहुंच गया। वहां उसकी पत्नी से कहा कि साजिद का एक्सीडेन्ट हो गया है और इलाज के लिए रुपए चाहिए। इसके बाद साजिद की पत्नी ने अलफाज को दस हजार रुपए दिए। जिसे लेकर फरार हो गया और अब तक पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

Sunil Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned