scriptCorona Infection, Corona investigation, Silvasa, Surat, Gujrat | कोविड की जांच से भी कतरा रहे लोग | Patrika News

कोविड की जांच से भी कतरा रहे लोग

सिलवासा: क्षेत्रवार जांच टीमें बनाई गई, सर्दी-बुखार के मरीजों की निगरानी

सूरत

Published: January 10, 2022 11:51:49 pm

सिलवासा. जिले में कोरोना वायरस काबू में करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से क्षेत्रवार जांच टीम गठित की गई हैं। यह टीम खांसी, जुकाम, बुखार, सिरदर्द आदि के मरीजों पर खास निगाह रख रही हैं। कोरोना से संबंधित कोई भी लक्षण पाए जाने पर मरीजों का नि: शुल्क जांच और इलाज किया जा रहा है। बीमारी फैलाव को रोकने के लिए कोविड मरीज के साथ परिजनों की भी जांच की अनिवार्य रूप से की जाती है।
कोविड की जांच से भी कतरा रहे लोग
कोविड की जांच से भी कतरा रहे लोग
नए साल आगमन के साथ जिले में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। लोग अब कोविड-19 की जांच कराने से कतराने लगे हैं। लोगों में कोरोना महामारी का इतना डर बैठ गया है कि वे जांच के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। खौफ इस बात का है कि यदि उनमें कोरोना के लक्षण मिले तो उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया जाएगा।
चिंता की बात यह है कि कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोग भी संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि संक्रमण के नए मामलों में दूसरी लहर की तरह गंभीर मरीज नहीं मिल रहे हैं। मरीजों में ऑक्सीजन लेवल भी दूसरे दौर की तरह नहीं गिर रहा है। कोरोना के भय से अस्पतालों में अन्य रोगों से ग्रसित मरीज भी कम हो गए हैं।
कोरोना टेस्ट से लोग दूरी बनाने लगे हैं। खांसी, जुकाम, फीवर, सिरदर्द होने पर घरों पर ही काढ़ा बनाकर इलाज कर रहे हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोना से संबंधित कोई भी लक्षण दिखाई देने पर मरीज को तुरंत ऑक्सीजन लेवल, तापमान के साथ एंटीजन टेस्ट कराना आवश्यक है। अब नवीनतम तकनीक रैपिड एंटीजन टेस्ट से कोरोना मरीजों में 30 मिनट में संक्रमण का पता चल जाता है।
दूसरी लहर सा मंजर हो सकता है ताजा

कोरोना विषाणु के बढ़ते संक्रमण ने क्षेत्र के लोगों की नींद उड़ा दी है। दूसरी लहर का मंजर आंखों में दिखाई देने लगा है। सप्ताह भर में अचानक तीव्र गति से बढ़ रहे कोरोना से सोसायटियों के लोगों में खौफ देखा जा रहा है। लोग घरों से बेवजह नहीं निकल रहे हैं। सोसायटियों में रहने वाले लोगों ने बाहर से आने वाले लोगों पर पाबंदियां लगा दी हैं। संक्रमितों की संख्या बढऩे से लोग अब सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने लगे हैं। लोग बाजार, सड़कों पर निकलने की बजाए घरों में रहना सुरक्षित मान रहे हैं। गत सप्ताह से कोरोना वायरस के रोजाना मरीज मिल रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालइन 4 तारीखों में जन्मी लड़कियां पति की चमका देती हैं किस्मत, होती है बेहद लकी“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहकम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

UP Assembly Elections 2022 : गृहमंत्री अमित शाह ने दूर की पश्चिम के जाटों की नाराजगी, जाट आरक्षण को लेकर कही ये बातटाटा ग्रुप का हो जाएगा अब एयर इंडिया, कर्मचारियों को क्या होगा फायदा और नुकसान?झारखंड में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया रेलवे ट्रैक, राजधानी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों का रूट बदलाBudget 2022: इस साल भी पेश होगा डिजिटल बजट, जानें कैसे होगी छपाईRRB-NTPC Exam: पटना के खान सर समेत कई संस्थानों के खिलाफ एफआईआर, छात्रों को उकसाने का आरोपकेरल और कर्नाटक में 50 हजार तक सामने आ रहे नए केस, जानिए अन्य राज्यों का हालSchool Closed: यूपी में 15 फरवरी तक बंद हुए सभी स्कूल-कॉलेज, Online Classes जारी रहेंगीUP Police Recruitment 2022 : यूपी पुलिस में हाईस्कूल पास युवाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, जानें पूरी डिटेल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.