सूरत में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ा तो अस्पतालों में गंभीर मरीज भी बढ़े

- नए 74 भर्ती, 63 स्वस्थ हुए, कोई मौत नहीं

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 01 Mar 2021, 11:02 PM IST

सूरत.

शहर में कोरोना पॉजिटिव बढऩे के साथ ही अस्पतालों में भर्ती होने वाले गंभीर मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है। शहर और जिले में रविवार को नए 74 कोरोना मरीज मिले और कोई मौत नहीं हुई। इसके अलावा शहर में नए 70 और जिले में 4 पॉजिटिव मिले हैं। वहीं, शहर और जिला मिलाकर 63 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई हैं। अब सूरत जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 53,823 हो गई है।


शहर और ग्रामीण के नए मरीजों की संख्या लगातार 100 के करीब देखने को मिल रही है। न्यू सिविल अस्पताल में मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अमित गामित ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से संक्रमण बढ़ा है। इसके चलते अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। फरवरी के पहले सप्ताह में न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल में कोरोना मरीजों की संख्या घटकर 5-7 रह गई थी। वहीं, वेंटिलेटर पर एक भी कोरोना का गंभीर मरीज नहीं था, लेकिन अब संक्रमण बढऩे के साथ ही गंभीर मरीज भी सामने आना शुरू हो गए हैं। डॉ. अमित ने बताया कि पहले ओपीडी में आने वाले मरीजों में सिर्फ एक या दो मरीज ही भर्ती किए जा रहे थे। लेकिन अब 3 से 4 कोरोना के गंभीर मरीजों को भर्ती किया जा रहा है। शहर में रविवार को कोरोना से कोई मौत नहीं हुई है। मनपा स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक शहर में रविवार को नए 70 पॉजिटिव भर्ती हुए हैं।

इसमें टैक्सटाइल समेत 6 बिजनसमैन, 5 छात्र, 2 कपड़ा व्यापारी, आर्किटेक्ट समेत अन्य की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। रविवार को सबसे अधिक अठवा जोन में 25, रांदेर जोन में 20, लिम्बायत जोन में 8, कतारगाम जोन में 7, वराछा-ए जोन में 5, उधना जोन में 3, वराछा-बी, सेंट्रल जोन में 1-1 कोरोना मरीज मिले हैं। अब तक शहर में कुल 40,673 कोरोना पॉजिटिव मिले, जिसमें 39,443 को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दी गई हैं। रविवार को सूरत शहर में 54 और ग्रामीण क्षेत्र में 9 मरीजों को छुट्टी मिली हैं।
गौरतलब है कि, मनपा स्वास्थ्य विभाग ने महानगरपालिका चुनाव खत्म होने के बाद टेस्टिंग की संख्या बढ़ा दी है। स्कूल शुरू होना भी मरीज बढऩे का कारण हो सकता है। दूसरे राज्यों से व्यापार के लिए सूरत आने वाले व्यापारियों को अपनी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट साथ में रखने के निर्देश दिए हैं।

10 मरीजों की हालत गंभीर

शहर में सरकारी न्यू सिविल और स्मीमेर अस्पताल में मरीजों की संख्या बढऩे के साथ गंभीर कोरोना मरीज भी भर्ती होना शुरू हो गए है। न्यू सिविल अस्पताल में 16 कोरोना मरीज भर्ती है। इसमें पांच की हालत गंभीर बताई गई है। एक मरीज वेंटिलेटर पर तथा अन्य चार मरीज ऑक्सीजन पर हैं। वहीं, स्मीमेर अस्पताल में पांच मरीज भर्ती है और यह सभी गंभीर स्थिति वाले हैं। इसमें वेंटिलेटर पर तीन और बाइपेप व ऑक्सीजन पर एक-एक मरीज उपचाराधीन है।

न्यू स्ट्रेन के संदिग्ध की रिपोर्ट नहीं आई

कोरोना नए स्ट्रेन के तीन संदिग्ध को 20 फरवरी को न्यू सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया था, लेकिन अब तक पूणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी लैब से रिपोर्ट नहीं आई है। चिकित्सकों ने बताया कि तीनों संदिग्ध कोरोना पॉजिटिव मरीज की हालत पहले से बेहतर है। चिकित्सकों ने बताया कि रेमडेसिविर, एमडब्लूएच, फेवीपिरावीर और विटामिन सी समेत अन्य दवाई दी जा रही है। इन तीन संदिग्धों में एक व्यक्ति दक्षिण अफ्रिका की यात्रा करके लौटा है। जबकि अन्य दो महिलाएं उनके घर के पारिवारिक सदस्य हैं।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned