MURDER : ‘उधार दिए हजार रुपए मांगने पर पतलून खोल कर नाचा था’


- अंजनी एस्टेट में हुई श्रमिक की हत्या का भेद उजागर, पुलिस ने एक को पकड़ा
- The mystery of killing a laborers in Anjani estate revealed, amroli police caught one

By: Dinesh M Trivedi

Published: 18 Dec 2020, 11:19 PM IST

सूरत. सप्ताहभर पूर्व अमरोली के अंजनी एस्टेट में हुई श्रमिक की हत्या का भेद उजागर करते हुए पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी युवक कापोदरा में हुई हत्या के मामले में वांछित था। पुलिस निरीक्षक आर.पी. सोलंकी ने बताया कि 12 दिसम्बर को अंजनी एस्टेट से 40 वर्षीय श्रमिक युवक का शव बरामद हुआ था।

परिचितों ने उसकी पहचान उत्तरप्रदेश के बलिया जिले के तुरतीपार निवासी कल्पनाथ पुत्र सलाब यादव के रूप में की थी। वह अंजनी एस्टेट के ही प्लॉट नम्बर 261 स्थित कारखाने में काम करता था और रहता था। उसके मित्रों, परिचितों से मिली जानकारी के आधार पर अंजनी एस्टेट में ही रहने वाले कुन्ना परीड़ा (28) के बारे में पता चला। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो कुन्ना ने कल्पनाथ की हत्या करना कबूल किया।

ओडिसा के नदियागड़ा गांव के निवासी कुन्ना ने बताया कि उसने आठ माह पूर्व एक हजार रुपए कल्पनाथ को उधार दिए थे, लेकिन वह लौटा नहीं रहा था। 11 दिसम्बर की रात कल्पनाथ मिला तो उसने फिर रुपए मांगे, लेकिन उसने रुपए देने से मना कर दिया। बातचीत के दौरान ही कल्पनाथ ने अपनी पतलून उतार दी और कहा कि मैं तो नंगा हूं, मेरे पास कुछ नहीं है और नाचने लगा। इस पर दोनों के बीच हाथापाई हुई और दोनों गिर गए। कुन्ना ने पास में पड़ी सिमेंट की ईंट से उसके सिर और चेहरे पर वार कर दिए। कल्पनाथ की मौके पर ही मौत हो गई। 


कापोद्रा में भी की थी हत्या :

पुलिस ने बताया कि कुन्ना ने 2016 में अपने एक साथी निरंजन साहू के साथ मिल कर कापोद्रा सिद्धकुटीर ओवारा के पास एक युवक की हत्या की थी। दोनों ने कांच की बोतल से वार कर युवक की हत्या कर दी थी। इस मामले में उसके साथी को तो कापोद्रा पुलिस ने उस समय गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन कुन्ना फरार हो गया था। कुछ समय बाद वह सूरत लौट आया था।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned