मटकी उतारने बिजली के खंभे पर चढ़े युवक की मौत

मटकी उतारने बिजली के खंभे पर चढ़े युवक की मौत

Sanjeev Kumar Singh | Publish: Sep, 04 2018 09:37:52 PM (IST) | Updated: Sep, 04 2018 09:37:53 PM (IST) Surat, Gujarat, India

जन्माष्टमी पर मटकी फोड़ते हुए कई गोविंदाएं हुए घायल

सूरत.

जन्माष्टमी के दौरान शहर में हुए मटकी फोडऩे के कार्यक्रम मेें कई लोग ऊंचाई से गिर कर घायल हुए। वही,ं डिंडोली क्षेत्र में मंगलवार सुबह मटकी बांधी हुई रस्सी खोलने के लिए बिजली के खंभे पर चढ़े एक युवक की करंट लगने के बाद नीचे गिरने से मौत हो गई।

 

शहर में जन्माष्टमी के दौरान मटकी फोडऩे के आयोजनों में गोविंदाओं के घायल होने के कई मामले सामने आए। डिंडोली लक्ष्मीनारायण सोसायटी निवासी कल्पेश राम पटेल (27) ने सोमवार को जन्माष्टमी पर मटकी फोडऩे का आयोजन किया था। मंगलवार सुबह कल्पेश इलेक्ट्रिक खंभे से बांधी मटकी को खोलने चढ़ा था। इसी दौरान उसका हाथ बिजली के तार को छू गया, जिसमें वह नीचे गिरा। उसके सिर में गंभीर चोट आई। परिजन उसे स्मीमेर अस्पताल लेकर आए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित किया। सूचना मिलने पर डिंडोली पुलिस पहुंची और शव का पोस्टमार्टम करवाया। पुलिस ने बताया कि कल्पेश मूल रूप से वलसाड के धरमपुर का निवासी था। वह सूरत में मजदूरी करता था।

 

कई गोविंदाओं को आई चोट
सचिन, पांडेसरा, वराछा, लिम्बायत, पुणा, कतारगाम समेत अन्य क्षेत्रों में आयोजनों में हुए घायल गोविंदाओं को स्मीमेर अस्पताल और न्यू सिविल अस्पताल लाया गया। पांडेसरा निवासी सौरभ मौर्या (10), गणेश पटेल (10) को इलाज के लिए न्यू सिविल अस्पताल लाया गया। पांडेसरा जय महादेव नगर निवासी मटकी फोडऩे के दौरान ऊंचाई से गिरे क्रिष्णा रुदल सहानी (11) को दाहिने हाथ में गंभीर चोट आई। पुणा क्षेत्र के मीत जानी (10 और वराछा कोहिनूर नगर निवासी जयेश दवे (11) को सिर में चोट लगने के बाद स्मीमेर अस्पताल लाया गया।

 

पानी फेंकने पर हुई लड़ाई, तीन घायल
पांडेसरा सनातन डायमंड नगर निवासी राहुल गुलाब शर्मा (24) सोमवार रात को घर के नजदीक मटकी फोडऩे के कार्यक्रम में शामिल होने गया था। इस दौरान पानी फेंकने को लेकर रोशन तथा उसके दोस्तों के साथ झगड़ा हो गया। इसके बाद रोशन तथा उसके दोस्तों ने राहुल पर लकड़ी के डंडे से हमला कर दिया। राहुल को बचाने पहुंचे दोस्त दीपक शर्मा तथा अजय ठाकुर को भी चोटें आई हैं। इन सभी को इलाज के लिए न्यू सिविल अस्पताल लाया गया।

Ad Block is Banned