scriptDHOLERA SIR SMARTCITY: Neer started spilling in six km long artificial | DHOLERA SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर | Patrika News

DHOLERA SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर

locationसूरतPublished: Oct 14, 2021 06:12:30 pm

Submitted by:

Dinesh Bhardwaj

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अति महत्वाकांक्षी योजना में से एक, 15 किमी होगी लम्बाई और छह ब्रिज बनकर तैयार, भविष्य में ऐसी यहां पर कुल तीन कृत्रिम नदियां बनाकर तैयार की जाएगी

 

DHOLERA  SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर
DHOLERA SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर
सूरत. पौराणिक मान्यता है कि गंगा नदी को रघुकुल के राजा भगीरथ अपने पूर्वजों के उद्धार के लिए स्वर्ग से धरती पर लेकर आए थे और तब से गंगाजी का पवित्र जल के छींटे मात्र से शुद्धता का भाव भारतवर्ष के जन-जन में बना हुआ है। ऐसा ही एक नया मानव सृजित इतिहास अब गुजरात की धरती पर लिखा जा रहा है और वह जगह है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अति महत्वाकांक्षी बहुआयामी धोलेरा सर स्मार्टसिटी। 2020-21 में जब पूरा विश्व कोरोना महामारी से संघर्ष कर रहा है, ऐसे विकट काल में धोलेरा सर स्मार्टसिटी में मानव निर्मित कृत्रिम नदी ने साकार रूप ग्रहण किया है। 25 वर्गकिमी क्षेत्र में बनकर तैयार हुई धोलेरा सर स्मार्टसिटी में पानी की जरूरत को प्राकृतिक तरीके से पूरा करने के लिए 15 किलोमीटर लम्बी कृत्रिम नदी के निर्माण की योजना बनाई गई और अभी तक छह किलोमीटर लम्बी, 110 मीटर चौड़ी व 15 मीटर गहरी नदी ना केवल बनकर तैयार हो गई बल्कि इस मानसून के पानी से छलकने भी लगी है। भविष्य में ऐसी यहां पर कुल तीन कृत्रिम नदियां बनाकर तैयार की जाएगी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच हजार वर्ष पुराने लोथल बंदरगाह को फिर से वैश्विक शहर के रूप में साकार करने का स्वप्न गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए देश के पहले ग्रीनफील्ड धोलेरा सर स्मार्टसिटी की परिकल्पना तैयार की थी। धोलेरा स्पेशल इन्वेस्टमेंट रीजन (सर) स्मार्टसिटी 920 वर्गकिमी के विशालकाय क्षेत्रफल में 6 टाउन प्लानिंग के तहत तैयार हो रहा है।
-बड़ी-बड़ी उपलब्धियों में यह भी है शुमार

कोरोना काल के कालखंड में जब अमेरिका, चीन, ब्रिटेन जैसे दुनिया के देश गिरती हुई जीडीपी के दौर से गुजर रहे हैं। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के समान बेहद ऊंचा स्वप्न धोलेरा सर स्मार्टसिटी में कृत्रिम नदी के रूप में साकार हो रहा था। वे जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने धोलेरा सर में सिंगापुर, दुबई जैसी बिजनेस हब सिटी की नींव रखी थी। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्षम भारत निर्माण के कार्यों की सूचि और उपलब्धियों में धोलेरा सर स्मार्टसिटी प्रोजेक्ट शामिल है। इसके अलावा उनकी अन्य उत्कृष्ट उपलब्धियों में सबसे ऊंची प्रतिमा, सबसे लम्बी टनल, सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे, सबसे ऊंचा रेल ब्रिज, तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था, तेज रूप से साकार होती डिजीटल ट्रांजेक्शन सेवा, तेजी से उभरता रेलवे नेटवर्क, दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट मैदान और इन सबमें विशिष्ट दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टसिटी धोलेरा परियोजना उदाहरण स्वरुप सम्मिलित की जा सकती हैं।
-पेयजल व नदी किनारे गार्डन

दुनियाभर के बेहतरीन शहरों में शुमार दुबई, शंघाई के समान कृत्रिम नदी के बहने से धोलेरा सर स्मार्टसिटी क्षेत्र के 22 गांवों में पेयजल का संकट खत्म होगा। कृत्रिम नदी में जल संग्रह के लिए रेनवाटर स्टोरेज की अनूठी योजना भी तैयार की गई है। इसमें भविष्य की ग्लोबल बिजनेस सिटी के 72 किमी लम्बे रोड़ नेटवर्क के नीचे जगह-जगह ब्लॉक व टनल बनाए गए हैं, जहां से नदी में वर्षासंचित जल पहुंचता है। धोलेरा सर स्मार्टसिटी का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट भी दुनिया का सबसे उम्दा बनने की तैयारी है, यहां पर 100 फीसद पानी का मात्र 5 प्रतिशत भाग ही व्यर्थ जाएगा। अभी यह उपलब्धि सिंगापुर के वाटर ट्रीटमेंट सिस्टम के पास है वहां मात्र 7 प्रतिशत जल व्यर्थ जाता है। नदी किनारे मरीन पार्क भी विकसित हो रहे हैं। वहीं, सड़क के नीचे विद्युतीकरण, इंटरनेट, ड्रेनेज, गैसलाइन की व्यवस्था भी की गई है।
DHOLERA SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर-यह हैं यहां की खूबियां

-धोलेरा सर स्मार्टसिटी छह टाउन के तहत विकसित
-719 वर्गकिमी में सिंगापुर वहीं, धोलेरा का क्षेत्रफल 920 वर्गकिमी
-22 गांवों को मिलाकर निर्माण जारी
-चरणबद्ध तरीके से 2042 में होगा बनकर पूरी तरह से तैयार
-12 अलग-अलग जोन में हैं विभक्त
-आवासीय, औद्योगिक, हाई एसेज कॉरिडोर, नॉलेज एंड आईटी, पब्लिक फेसिलिटीज, लॉजेस्टिक, सिटी सेंटर, 10 गीगावॉट सोलर पार्क, ट्यूरिज्म, रीक्रिएशन एंड स्पोट्र्स जोन, कोस्टल जोन,
-8 लाख रोजगार व 20 लाख की बसावट
-डोमेस्टिक एंड इंटरनेशनल एयरपोर्ट
DHOLERA SIR SMARTCITY: छह किमी लम्बी कृत्रिम नदी में छलकने लगा नीर -निवेशकों की पहली पसंद

ग्लोबल बिजनेस सिटी धोलेरा सर में सूरत, गुजरात व भारत से ही नहीं बल्कि विश्वभर से निवेशक व्यापारिक व औद्योगिक रुचि रख रहे हैं। सरकार की बहुआयामी योजना का भाग बनने के लिए देसी-विदेशी बड़ी-बड़ी कंपनियों ने भी यहां पर निवेश किया है।
अंबरीश पराजिया, निवेशक व डायरेक्टर, गेप फाउंडेशन

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.