DIAMOND NEWS-हीरा उद्योग में उत्पादन कटौती से लौटेगी रौनक?

DIAMOND NEWS-हीरा उद्योग में उत्पादन कटौती से लौटेगी रौनक?
DIAMOND NEWS-हीरा उद्योग में उत्पादन कटौती से लौटेगी रौनक?

Pradeep Devmani Mishra | Updated: 12 Oct 2019, 08:42:14 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

उत्पादन ज्यादा होने और डिमांड कम होने के कारण मंदी का माहौल बन गया है

सूरत
मंदी से जूझ रहे हीरा उद्योग में उत्पादन कटौती से रौनक लौट सकती है। पिछले कुछ दिनों से हीरा उद्यमियों ने उत्पादन कम करने के कारण हाल में बाजार में कट और पॉलिश्ड हीरों की डिमांड निकली है। ऐसा सूरत डायमंड एसोसिएशन के प्रमुख बाबु छोडवड़ी ने कहा।
वराछा में सूरत डायमंड एसोसिएशन के कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेन्स के दौरान बाबु छोड़वड़ी ने कहा कि उत्पादन ज्यादा होने और डिमांड कम होने के कारण मंदी का माहौल बन गया है, लेकिन यदि हीरा उद्यमी हीरा उत्पादन कम करेंगे तो डिमांड निकलेगी। आने वाले दिनों में यदि वेकेशन ज्यादा रहा तो इसका लाभ हीरा उद्योग को मिलेगा। छोडवड़ी ने कहा कि जैम्स एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउन्सिल और सूरत डायमंड एसोसिएशन की ओर से हीरा उद्यमियों और हीरा श्रमिकों के लिए परिचय कार्ड बनाया जा रहा है।

गुजरातः बीएसएफ ने चलाया विशेष जांच अभियान, समुद्र किनारे पाकिस्तान की 5 नाव जब्त

इस परिचय कार्ड के आधार पर हीरा उद्योग का एक डाटा बनाया जाएगा। इस कार्ड के माध्यम से हीरा श्रमिकों को 1 लाख रुपए का वीमा का लाभ भी मिल सकता है।

DIAMOND NEWS-हीरा उद्योग में उत्पादन कटौती से लौटेगी रौनक?

वीमा के प्रिमीयम की 75 प्रतिशत राशि जैम्स एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउन्सिल देगी और 25 प्रतिशत हीरा श्रमिक को देना होगा। इसके अलावा दिवाली पर वतन जाने वाले हीरा श्रमिकों के लिए गुजरात राज्य परिवहन निगम की ओर से इस साल अतिरिक्त बसें चलाई गई हैं इस बार किराया भी नहीं बढ़ाया गया है।

चाइल्ड पोनोग्राफी के खिलाफ बोले कैलाश सत्यार्थी, कहा, मजबूत कदम उठाए यूएनएससी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned