DIPAWALI: व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर कुबेरजी को भक्तिभाव से मनाया

कम्प्यूटर के जमाने में भी स्टेशनरी की दुकानों पर रही भीड़, गृहणियों ने खरीदी शगुन की घरेलू सामग्री

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 13 Nov 2020, 08:11 PM IST

सूरत. कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी धनतेरस के अवसर पर शुक्रवार को जहां दिनभर गृहणियों ने शगुन की घरेलू वस्तुएं खरीदी वहीं, स्टेशनरी की दुकानों पर भी ग्राहकों की खूब भीड़ रही। उधर, धनतेरस पर कई घरों एवं कपड़ा बाजार के व्यापारिक प्रतिष्ठानों में विधि-विधान से कुबेरजी की पूजा भी की गई।
पांच दिवसीय दीपोत्सव पर्व की शुरुआत धनतेरस के साथ हुई। इस मौके पर सुबह से ही बाजार में आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी करने के लिए लोगों की भीड़ उमडऩे लगी। बाजार में जमा हुई भीड़ में ज्यादातर लोग बर्तन भंडार, ज्वेलर्स प्रतिष्ठान, पूजा सामग्री व घरेलू सामग्री की दुकानों पर दिखे। इसके अलावा रेडीमेड गारमेंट्स, शोपिंग मॉल आदि में भी लोग खरीदारी के लिए पहुंचे। धनतेरस के मौके पर शुभ खरीदारी के लिए लोग परिवार समेत बाजार में पहुंचे और जरूरी वस्तुओं के अलावा बच्चों की पसंद के सामान की खरीदारी की। धनतेरस की रोनक सभी तरह के बाजार में देर रात तक रही।


अभिजित मुहूर्त में पूजा


धनतेरस के अवसर पर घर एवं व्यापारिक प्रतिष्ठानों में शुक्रवार को सुबह एवं शाम में पूजा के अलावा ज्यादातर लोगों ने मध्याह्न में अभिजित मुहूर्त में भगवान कुबेरजी को मनाया। गृहणियों ने घर के परिंडे में नए मिट्टी के कलश की विधि-विधान से स्थापना की।


पूजा में बैठे परिजन


व्यावसायिक केंद्रों में व्यापारियों ने सपरिवार पूजा-अर्चना भी की। प्रतिष्ठान मालिकों ने लग्न मुताबिक मुहूर्तकाल में पंडितों की उपस्थिति में शुक्रवार को लक्ष्मी (धन) के रक्षक कुबेर भगवान की पूजा करवाई। इस अवसर पर कर्मचारियों को भेंट-सौगात भी मिली।


धन्वंतरी देव को मनाया


धनतेरस पर आयुष्य के देव धन्वंतरी की पूजा-अर्चना भी शहर के कई सरकारी-गैरसरकारी अस्पतालों में की गई। चिकित्सा केंद्र में अधिकारी-कर्मचारियों ने एकत्र होकर धन्वंतरी भगवान को पत्र-पुष्प अर्पित कर कई कार्यक्रम आयोजित किए।


रूप चतुर्दशी भी मनी


पंच महापर्व श्रृंखला में रूप चतुर्दशी का त्योहार भी शुक्रवार को ही मनाया गया। त्रयोदशी व चतुर्दशी तिथि शामिल होने से कार्तिक अमावस्या श्निवार को दीपावली मनाई जाएगी। रूप चतुर्दशी के मौके पर महिलाओं ने सजने-संवरने के लिए ब्यूटी पार्लर की राह भी शुक्रवार को देखी।

Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned