पांच हजार नए आवासों की डीपीआर तैयार

Binod Kumar Pandey

Publish: Jan, 13 2018 08:57:30 PM (IST)

Surat, Gujarat, India
पांच हजार नए आवासों की डीपीआर तैयार

प्रधानमंत्री आवास योजना के ड्रा 18 को, बुनियादी सुविधा के अलावा शिक्षा-स्वास्थ्य सुविधा भी मुहैया

सूरत. महानगर पालिका की ओर से प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पांच हजार नए आवासों की डीपीआर तैयार की गई है। शहर में अभी इसी योजना अंतर्गत 8,110 आवासों का निर्माण कार्य चल रहा है, जिनका ड्रा 18 जनवरी को निकाला जाएगा।

 

8,110 आवासों का तेजी से निर्माण

शहर के लोगों को बुनियादी सुविधाएं देने के अलावा मनपा प्रशासन शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधा के अलावा आवास भी मुहैया करा रहा है। इससे पहले मनपा ने मुख्यमंत्री आवास योजना अंतर्गत 11 हजार 17 आवासों का निर्माण करा कर आवंटन भी कर दिया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शहर के विभिन्न क्षेत्रों में 8,110 आवासों का तेजी से निर्माण कार्य चल रहा है। इनका ड्रा 18 जनवरी को मुख्यमंत्री विजय रूपाणी करेंगे। इसके ड्रा के साथ ही मनपा नए पांच हजार आवासों के निर्माण की प्रक्रिया को तेज करेगी। इनकी डीपीआर तैयार कर ली गई है। इससे पहले पीएमएवाई के आवासों के निर्माण स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट एरिया में हो रहे थे। अब नए पांच हजार आवासों को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में बनाया जाएगा। मनपा इसके लिए जगह भी खोज चुकी है। इन आवासों के बनने के साथ ही शहर में पिछले तीन-चार साल के अंदर ही मनपा की ओर से करीब 25 हजार आवासों का निर्माण और आवंटन कार्य पूरा होगा।

 


अब गोतालाबाड़ी की बारी
आवासों के निर्माण के अलावा मनपा प्रशासन विभिन्न योजनाओं के तहत पुराने और जर्जर हो चुके आवासों का भी रिडवपलमेंट भी कर रहा है। टेनामेंट रिडवलपमेंट के तहत अब तक अलथाण, डुंभाल, आंजणा के टेंडर सौंपे जा सकते हैं। इसके बाद अब गोतालाबाड़ी का प्लान तैयार हो चुका है, शीघ्र ही इसकी टेंडर प्रक्रिया शुरू की जाएगी। पीपीपी अंतर्गत चल रहे अलथाण टेनामेंट रिडवलमेंट में कांट्रेक्टर फर्म आवास मालिकों को 1296 आवास देगा, वहीं 588 आवास वह मनपा को सौंपेगा। इसके अलावा डुंभाल में वह 896 आवास मालिकों को और बाकी 168 मनपा को देगा। आंजणा में 416 आवास मालिकों को और 486 मनपा को सौंपेगी। इसके अलावा इन सीटू प्रोजेक्ट अंतर्गत जहां झोपड़े वहीं लोगों को आवास देने की योजना में भाठेना के 13 झोपड़ों में से छह का काम मंजूर कर टेंडर सौंपा जा चुका है। कांट्रेक्टर फर्म यहां सर्वे आदि कर आवास मालिकों को आवास देगा।

Ad Block is Banned