100 दिन के इलाज के बाद स्वस्थ हुए डॉ. संकेत ने किया प्लाज्मा दान

- ब्लड बैंक से लाज्मा दान करने की अपील

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 21 Apr 2021, 11:01 PM IST

सूरत.

शहर के पाल क्षेत्र निवासी और लाइफ लाइन अस्पताल के एनेस्थेटिस्ट डॉ. संकेत मेहता ने पिछली लहर में 100 दिन के लम्बे उपचार के बाद कोरोना को हराया था। दूसरी लहर में एक बार फिर संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में अस्पताल में भर्ती गंभीर मरीजों के लिए डॉ. संकेत मेहता ने मंगलवार को न्यू सिविल अस्पताल में प्लाज्मा डोनेट किया है।
पिछली लहर में पन्द्रह दिनों में कोरोना वायरस फेफड़े को खराब करता था। अब तीन दिन में ही संक्रमण इतना फैल जाता है कि मरीज की हालत गंभीर हो जाती है। चिकित्सकों ने रेमडेसिविर, टोसिलिजुमाब, मिथाइलीन ब्लू, पेरीफेरीडोन से गंभीर मरीजों की जिंदगी बचाने में जुटे हैं। लेकिन रेमडेसिविर और टोसिलिजुमाब की आपूर्ति नहीं होने से गंभीर मरीजों की जान खतरे में है। प्रतिदिन न्यू सिविल अस्पताल से स्टॉक वितरण हो रहा है, लेकिन मांग के सामने मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं मिल पाता है। इसके अलावा चिकित्सकों के पास गंभीर मरीजों को बचाने के लिए प्लाज्मा थैरेपी भी है। लेकिन कोरोना से स्वस्थ हुए लोग बड़ी संख्या में प्लाज्मा दान करने के लिए आगे नहीं आ रहे है। जबकि प्लाज्मा थैरेपी से कई गंभीर मरीजों को बचाया गया है। लेकिन प्लाज्मा दान नहीं हो रहा है।

कौन है डॉ. संकेत

पिछली कोरोना लहर में लाइफलाइन अस्पताल के डॉ. संकेत मेहता स्वयं कोरोना संक्रमित हो कर भर्ती थे। उस दौरान एक वृद्ध कोरोना मरीज को वेंटीलेटर पर पाइप डालने में मदद के दौरान स्वयं स्वयं नब्बे प्रतिशत संक्रमित हो गए थे। ऐसे कोरोना फ्रंटफाइटर के फेफड़े ट्रांसप्लांट करने की नौबत आ गई थी। जिसके लिए 10 करोड रुपए की जरूरत थी। गुजरात तथा देशभर से लोगों ने दान का ताता लगा दिया था। हालांकि चेन्नई में बिना ट्रांसप्लांटेशन के उन्हें बचा लिया गया। उन्हें एयर एंबुलेंस से चेन्नई के एमजीएम अस्पताल ले जाया गया था। वहां उन्होंने 100 दिन के इलाज के बाद कोरोना वायरस को हराया था। कोरोना मरीजों के लिए डॉ. संकेत ने मंगलवार को न्यू सिविल अस्पताल में प्लाज्मा डोनेट किया है।

उन्होंने बताया कि इस बार वैक्सीन का हथियार है। बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीन लगने के बाद कोरोना की लहर धीमी हो जाएगी। एक मई से सरकार ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन देने की घोषणा की है। इसमें बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीनेशन के लिए आगे आना चाहिए। इस दौरान न्यू सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक के इंचार्ज डॉ. मयुर जरग भी मौजूद थे।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned