सोने की डस्ट भरी कचरे की थैलियां चोरी

 

- ज्वैलरी वर्कशॉप से दो अज्ञात युवक उठा ले गए

- Two unknown youths were taken away from the jewelery workshop

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 19 Mar 2021, 10:51 AM IST

सूरत. कतारगाम इलाके में स्थित एक ज्वैलरी वर्कशॉप से सोने की डस्ट भरी कचरे की छह थैलियों की चोरी का मामला सामने आया है। इस संबंध में पुलिस ने सीसी टीवी फुटेज के आधार पर दो अज्ञात युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक, चोरी कतारगाम गोपीनाथ रो-हाउस निवासी नरेन्द्र प्रताप देवाणी की अवध बिल्डिंग में पहली मंजिल पर स्थित नीति ज्वैलस नाम की वर्कशॉप में हुई।

उनके यहां कुल 50 जनें काम करते है। लेकिन रविवार को साप्ताहिक अवकाश के दिन किसी काम के चलते वे प्रबंधक राजू अटाले व चपरासी किशोर के साथ सुबह नौ बजे वर्कशॉप पर गए थे। किशोर वर्कशॉप के पिछले हिस्से में कारीगरों के कपड़े लेने के लिए गया तो वहां रखी कचरे की दस थैलियों में से छह गायब मिली।

कचरे की इन थैलियों में सोने जेवर बनाने के दौरान निकलने वाला कचरा भी जमा किया जाता था। इनकी कीमत एक लाख 20 हजार रुपए बताई गई है। नरेन्द्र ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की तो दो अज्ञात युवक कचरे की थैलियां चुरा कर ले जाते हुए नजर आए। इस पर बुधवार को कतारगाम थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

बिल वसूलने आए विद्युतकर्मी को मुक्का मारा


सूरत. कोसाड़ आवास में बिजली का बिल वसूलने गए दक्षिण गुजरात विज कंपनी (डीजीवीसीएल) के कर्मचारियों की कार्रवाई में दखल कर मारपीट करने का मामला सामने आया है। अमरोली पुलिस के मुताबिक, अमरोली कोसाड़ आवास निवासी शब्बीर शेख ने डीजीवीसीएल के कर्मचारी मनीष कुमार रंजन व उनके साथी के साथ बुधवार को मारपीट की।

दोनों कोसाड़ आवास में बकाया बिल वसूलने गए थे। उस दौरान शोएब ने उनकी कार्रवाई में दखल की और अपशब्द कहे। उसे रोकने पर उनसे रंजन के चेहरे पर मुक्का मार दिया और फरार हो गया। रंजन की प्राथमिकी के आधार पर अमरोली पुलिस ने मामला दर्ज किया और बाद में शोएब को गिरफ्तार कर लिया।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned