महिला पीएसआई को ट्रक से कुचलने का प्रयास

घायल पीएसआई अस्पताल में भर्ती, आरोपी गिरफ्तार, वापी में अस्पताल में घुसकर युवक की पिटाई

By: विनीत शर्मा

Published: 05 Feb 2018, 09:01 PM IST

वलसाड. वापी से ट्रक चुराकर भाग रहे चालक ने धरमपुर में तैनात महिला पीएसआई को कुचलने का प्रयास किया। मगर किसी तरह महिला पीएसआई की जान बची मगर इस दौरान वह घायल हो गई।


जानकारी के अनुसार वापी से लाल रंग की एमएच 04 एन 3274 नंबर ट्रक चोरी होने की शिकायत जीआईडीसी पुलिस को मिली थी। ट्रक में जीपीएस सिस्टम होने से जांच करने पर उसका लोकेशन धरमपुर क्षेत्र की ओर मिला। जिसके बाद कंट्रोल रुम से इसकी सूचना रविवार देर रात धरमपुर में तैनात पीएसआई एनटी पुराणी को दी गई थी। जिसके बाद महिला पीएसआई अपनी टीम के साथ बिलपुड़ी रोड पहुंच गई। कुछ देर बाद वह ट्रक वहां आती देख उसे रुकने का इशारा किया गया तो चालक ने ट्रक रोक दिया।


ट्रक के नजदीक पहुंचकर जब पीएसआई ने चालक को उतारने की कोशिश की तो चालक ने ट्रक चालू कर चढ़ाने की कोशिश की। इस दौरान पीएसआई गिरने से घायल हो गई। जबकि अन्य पुलिसकर्मियो ने ट्रक का पीछा शुरु कर दिया। बताया गया है कि कुछ दूर पर ट्रक सामने से आ रहे टेम्पो से टकरा गया। जिसके बाद चालक समेत उसमें बैठे दोनों लोग उतरकर भागने लगे। मगर पुलिस ने चालक रउफ मोहम्मद कमरुद्दीन निवासी वापी को पकड़ लिया। जबकि दूसरा शख्स फरार हो गए। जिसका नाम मोहम्मद अयूब बताया गया है। इस घटना में घायल महिला पीएसआई को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पीएसाई टीएन एनटी पुराणी ने जान से मारने की कोशिश का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

 


अस्पताल में घुसकर युवक की पिटाई


वापी में रविवार देर रात जन्मदिन पार्टी के दौरान हुई मारपीट में घायल युवक को कुछ लोगो ने अस्पताल में घुसकर पिटाई कर दी। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक और अस्पताल स्टाफ के बयान दर्ज किए हैं। जानकारी के अनुसार हाउङ्क्षसग निवासी आकाश सुभाष राय का रविवार को जन्मदिन था। रात करीब 12 बजे महाकाली मंदिर के पास उसके दोस्त जन्मदिन का केक काट रहे थे। आरोप है कि इस दौरान कई अन्य युवक भी वहां पहुंचे थे। किसी बात को लेकर इनका आकाश और उसके दोस्तों के साथ झगड़ा हो गया। दोनों पक्षों में मारपीट भी हुई, जिसमें घायल आकाश को हरिया अस्पताल में भर्ती करवाया गया।


आरोप है कि कुछ देर बाद वहां उमेश, अमित भानुशाली व अन्य युवक वहां पहुंचे और वार्ड में घुसकर आकाश की पिटाई कर दी। बताया गया कि वहां पड़ी कुर्सी समेत अन्य चीजें फेंक कर उसे मारा पीटा गया। इस दौरान वहां मौजूद नर्स व अन्य स्टाफ को भी आरोपियों ने अपशब्द कहे। वहां मौजूद सिक्योरिटी गार्ड ने कंट्रोल रुम फोन किया, इस दौरान उन्होंने आकाश से मिलने पहुंचे उसके दोस्त अमित की भी पिटाई कर दी।


सूचना के बाद पुलिस पहुंची उससे पहले आरोपी फरार हो चुके थे। घटना की सीसी फुटेज कब्जे में लेकर पुलिस ने जांच शुरु की है। इस घटना में अमित भट्ट की शिकायत पर उमेश राजभर, अमित भानुशाली, आकाश कनौजिया, पंकज के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। दूसरे पक्ष की ओर से भी रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned