मनीट्रांसफर एजेन्ट से 7.60 लाख रुपए लूटने वाले आठ पकड़े गए


- एक को अमरोली पुलिस व सात को रायपुर रेलवे पुलिस ने ट्रेन से पकड़ा

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 21 Jul 2021, 10:33 AM IST

सूरत. एक सप्ताह पूर्व अमरोली थानाक्षेत्र की अंजनी एस्टेट में रेलवे पटरी के पास एक मनी ट्रांसफर एजेन्ट को फिल्मी अंदाज में घेर कर उससे7.60 लाख रुपए लूटने वाले गिरोह के आठ जनों को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की हैं। उनमें से एक को अमरोली पुलिस ने पकड़ा जबकि सात को रायपुर रेलवे पुलिस ने ओखा-पुरी ट्रेन से दबोचा।

पुलिस के मुताबिक अमरोली जलाराम सोसायटी निवासी करण राठौड़ ने अपने साथियों को गणेशपुरा निवासी राजेश पटनायक, कुणाल गौड़, चरण गौड़, मितन बिसोई, सायण निवासी बसंत प्रधान, रुचित बेहरा, शिवराम स्वाईं ने मिल कर न्यू कोसाड़ रोड स्वीट रो हाउस निवासी हरेश विनू गोलविया को लूटा था।

अंजनी इंडस्ट्रियल एस्टेट में स्थित मानसी मोबाइल नाम की दुकान में मोबाइल रिपेरिंग के साथ मनी ट्रांसफर का कोराबर करने वाले हरेश रात में रुपए भरा बैग लेकर घर लौट रहे थे। उस दौरान उन्होंने अंजनी इंडस्ट्रिज -5 रेलवे पटरी के पास उन्हें घेर कर रोका। फिर मारपीट कर बैग लूट लिया और फरार हो गए।

बाद में हरेश ने अपने मित्र की मदद से उनका पीछा भी किया लेकिन उनका कोई अता पता नहीं चला। इस पर उन्होंने अमरोली थाने में घटना की प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। बाद में पुलिस को पता चला कि जगा नाम के व्यक्ति ने कुणाल को लूट की टिप दी थी। जिसके आधार पर क्राइम ब्रांच व अमरोली पुलिस सक्रिय हो गई।

अमरोली पुलिस ने मोटरसाइकिल कोसाड़ कांसानगर के पास से करण राठौड़ को पकड़ा। वहीं क्राइम ब्रांच को अन्य आरोपियों के बारे में पता चला कि वे पुरी एक्सप्रेस में ओडिसा जा रहे हैं। इस पर पुलिस ने रायपुर रेलवे पुलिस की मदद ली और उन्हें ट्रेन से पकड लिया। करण के पास से 45 हजार रुपए नकद व उसके साथियों के पास से 65 रुपए व जेवर बरामद हुए हैं।

रायपुर गई क्राइम ब्रांच की टीम ने उन्हें सूरत लाकर अमरोली पुलिस के हवाले करने की कवायद शुरू की। आरोपियों में से चरण व बसंत शातिर हैं वे पहले भी ओलपाड़ थाने में दो अलग अलग मामलों में पकड़े जा चुके हैं।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned