एम्ब्रॉयडरी उद्यमियों के पास जॉब वर्क नहीं, हालत कमजोर

जीएसटी के बाद से अब तक एम्बॉयडरी यूनिट संचालकों की हालत सुधर नहीं पाई है। रक्षाबंधन और ईद से निराशा मिलने के बाद उन्हें दिवाली...

By: मुकेश शर्मा

Published: 12 Oct 2018, 11:19 PM IST

सूरत।जीएसटी के बाद से अब तक एम्बॉयडरी यूनिट संचालकों की हालत सुधर नहीं पाई है। रक्षाबंधन और ईद से निराशा मिलने के बाद उन्हें दिवाली पर अच्छा जॉब वर्क मिलने की उम्मीद थी, लेकिन अभी तक उनकी आशा के अनुरूप ऑर्डर नहीं मिलने से वह चिंतित हैं। पर्याप्त ऑर्डर नहीं मिलने के कारण 25 प्रतिशत यूनिट्स में एक शिफ्ट में काम या कारखाने बंद करने की नौबत आ गई है।

कपड़ा उद्यमियों का कहना है कि जीएसटी के बाद से लगातार कपड़ा उद्योग की हालत खराब होती जा रही है। एम्ब्रॉयडरी उद्यमियों के पास पर्याप्त जॉब वर्क नहीं होने के कारण उन्हें श्रमिकों का वेतन, किराया तथा मशीन की किस्त चुकाने के लिए भी सोचना पड़ रहा है। बड़े एम्ब्रॉयडरी यूनिट संचालक तो बैंक अथवा अन्य स्थानों से ऋण लेकर टिके हैं, लेकिन छोटे उद्यमियों के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है।

एम्ब्रॉयडरी संचालकों को त्योहारों के दिनों में बड़े पैमाने पर जॉब वर्क मिलने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कुछ बड़े उद्यमियों को अच्छे ऑर्डर मिले हैं, लेकिन 80 प्रतिशत एम्ब्रॉयडरी उद्यमी औसत से कम ऑर्डर मिलने से संकट में हैं। ऐसे में 25 प्रतिशत एम्ब्रॉयडरी यूनिट संचालक काम का समय कम करने या सप्ताह में दो दिन अवकाश पर विचार कर रहे हैं।

एम्ब्रॉयडरी यूनिट संचालक मंदी के दौर में पहले से परेशान हैं, दूसरी ओर कुछ श्रमिक रविवार को वेतन के साथ छुट्टी की मांग कर रहे हैं। इसे लेकर पिछले दिनों कई क्षेत्रों में एम्ब्रॉयडरी कारखानों में तोडफ़ोड़ और हड़ताल भी हुई थी। इससे एम्ब्रॉयडरी संचालकों की चिंता बढ़ गई है।

विसर्जन में बाइक फिसलने से घायल युवक की मौत

डिंडोली खरवासा रोड पर मोहणी गांव के पास गणपति विसर्जन से लौटते समय मोटर साइकिल फिसलने से घायल युवक की सोमवार सुबह न्यू सिविल अस्पताल में मौत हो गई। लिम्बायत शाहपुरा सोसायटी निवासी सर्वेश दिनेश गुप्ता (२५) लेस मशीन पर काम करता था और मूल रूप से उत्तरप्रदेश के फतेहपुर का निवासी था। गणपति विसर्जन पर वह रविवार को दोस्त महेश दिलीप निकुम (२९) के साथ घूमने निकला था। डिंडोली खरवासा रोड पर मोहणी गांव के पास उनकी मोटर साइकिल फिसल गई। हादसे में दोनों को गंभीर चोट आई। लोगों ने १०८ एम्बुलेंस में दोनों को न्यू सिविल अस्पताल भिजवाया था।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned