विजयादशमी तक खाली कर दें जमीन

विजयादशमी तक खाली कर दें जमीन
विजयादशमी तक खाली कर दें जमीन

Dinesh O.Bhardwaj | Updated: 15 Sep 2019, 09:03:33 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

नरोली विस्तार की 7.52 हैक्टर जमीन संपादित

अधिकांश जमीन मालिकोंं को मुआवजा मिल चुका

सिलवासा. नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पाेरेशन लि के बुलेट टे्रन प्रोजेक्ट में नरोली विस्तार की 7.52 हैक्टर जमीन संपादित की गई है। इसमें अधिकांश जमीन मालिकोंं को मुआवजा मिल चुका है। सिलवासा आरडीसी अपूर्व शर्मा ने जमीन मालिकों को विजयादशमी तक जमीन खाली करने का आदेश दिया है। नरोली के रेलपथ में कुल 112 प्लॉट आ रहे हैं।
प्रशासन ने पहले 13 सितम्बर तक बुलेट ट्रेन अधिग्रहीत जमीन खाली करने का नोटिस दिया था। बारिश के कारण माहयावंशी समाज के कुछ लोगों ने स्थानांतरण के लिए और समय मांगा। जिसके बाद विजयादशमी तक जमीन खाली करने का अंतिम समय दिया है। नरोली सरपंच प्रीति दोडिय़ा ने बताया कि अधिग्रहीत जमीन में कुछ लोग घर बनाकर रह रहे हैं। मुंबई से साबरमती तक 508.10 किमी लम्बे बुलेट रेलपथ में दानह में नरोली का 4.30 किमी हिस्सा आता है। नरोली में रेलमार्ग 3.5 मीटर चौड़ा व 5.5 मीटर लंबाई वाले ब्रिज के स्तम्भों पर खड़ा होगा। नरोली कुंभारवाड़ी में हाई ओवर रेलपथ में आने वाली अधिकांश जमीन मालिकों का मुआवजा मिल गया है। नरोली में धरातल से रेलपथ ब्रिज की ऊंचाई 10 से 15 मीटर होगी। मुंबई के बाद बोईसर, वापी, नरोली, बिलीमोरा, सूरत, भरूच, बड़ोदरा, आनंद, खेड़ा की जमीन पर रेलपथ बिछेगा। इस पथ पर महाराष्ट्र में 4 तथा गुजरात में 8 स्टेशन होंगे। रेलपथ तैयार होने के बाद मुंबई से अहमदाबाद की दूरी करीब दो घंटे में पूरी की जा सकेगी। प्रोजेक्ट के अनुसार बुलेट ट्रेन से वापी से मुंबई का सफर 45 मिनट, वापी से सूरत 22 मिनट, वापी से वड़ोदरा 55 मिनट तथा वापी से अहमदाबाद एक घंटे 20 मिनट का रह जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned