फायर एनओसी के लिए अतिक्रमण हटाया

पीछे की ओर बनेगा नया गेट

By: विनीत शर्मा

Published: 18 Dec 2020, 08:33 PM IST

बारडोली. शहर के लिमड़ा चौक क्षेत्र मे स्थित बारडोली सत्याग्रह अस्पताल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में फायर की एनओसी की आवश्यकता होने पर प्रवेश द्वार के पास से अतिक्रमण हटाने और पीछे की ओर नया गेट बनाया जाएगा। इसके लिए शुक्रवार को प्रशासन के आदेश पर पालिका की टीम ने अस्पताल मे मुख्य प्रवेशद्वार पर स्थित पियाऊ और पीछे के भाग में स्थित एक केबिन को तोड़ कर रास्ता खुला करने की कार्रवाई की।

शहर के लिमड़ा चौक क्षेत्र मे स्थित बारडोली सत्याग्रह अस्पताल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे अंदर जाने और बाहर निकलने का एक ही संकरा रास्ता है। इसके कारण आपातकालीन के समय काफी दिक्कत होती है। साथ ही नजदीक में सब्जी मंडी होने के कारण अस्पताल के प्रवेश द्वार पर ट्रैफिक की समस्या भी रहती है। फिलहाल इस अस्पताल को कोविड 19 अस्पताल बनाया गया है। राज्य में कोविड अस्पतालों में बढ़ रही आग की घटनाओं को देखते हुए सुरक्षा के लिहाज से अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। इस अस्पताल में फायर की सुविधा तो है, लेकिन एनओसी की आवश्यक है। एनओसी के लिए आने और जाने के दो अलग-अलग द्वार होने चाहिए और रास्ते भी चौड़े होने चाहिए। यह व्यवस्था नहीं होने के कारण फायर एनओसी नहीं मिल रही थी।

अस्पताल के अधीक्षक डॉ. अमृत पटेल ने मार्ग मकान विभाग और नगरपालिका को लिखित में जानकारी दी थी। बाद में प्रशासन ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इमरजेंसी बैठक आहूत कर अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए। इसके बाद बारडोली पालिका की टीम ने मौके पर पहुंच कर प्रवेश द्वार पर स्थित प्याऊ का आधा भाग तोड़ दिया गया। वहीं पीछे कंपाउंड वॉल तोडक़र एक केबिन हटाया। यहां दूसरा प्रवेश द्वार बनाया गया, जिससे वाहनो को आने जाने में राहत होगी।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned