scriptFAGOTSAV SURAT: Many colors of Janmabhoomi Marudhara will be scattered | FAGOTSAV SURAT: कर्मभूमि सूरत की धरा पर बिखरेंगे जन्मभूमि मरुधरा के कई रंग | Patrika News

FAGOTSAV SURAT: कर्मभूमि सूरत की धरा पर बिखरेंगे जन्मभूमि मरुधरा के कई रंग

-तीन साल बाद रंगों के पर्व होली पर उड़ेगी राजस्थानी लोक संस्कृति की गुलाल और बिखरेगा सतरंगी रंग
-हीरा और वस्त्रनगरी सूरत में होली के दिनों में दिखता है मिनी राजस्थान और चलता है आयोजनों का दौर

सूरत

Updated: March 07, 2022 06:01:27 pm

सूरत. अलगोजे और बांसुरी की मीठी-मीठी तान। नगाड़े पर धम-धम की आवाज। कांसे की थाली और सिटी की संगत में गूंजती रुनझुन। चंग की थाप पर पंचम सुर में उठते फाग व लोक गीत। देर रात तक जाजम पर जमी रसियों की टोली और झूमती मेहरियां। राजस्थान के यह सब नजारे जल्द ही सैकड़ों कोसों दूर गुजरात की औद्योगिक राजधानी सूरतनगरी में भी देखने को मिलेंगे।
तीन साल के अंतराल के बाद रोबदार मुंछ और सिर पर सजी पगड़ी के साथ आन, बान और शान के प्रतीक मरुभूमि राजस्थान की मिजबानी, मीठी बोली और लोक कला की सांस्कृतिक फुहार हीरा व वस्त्रनगरी में फिर से बरसने की तैयारी है। लंबे अंतराल के बाद सूरत की धरा पर होने वाले राजस्थानी लोक संस्कृति के फागोत्सव में मानों मरुधरा के दूर देहात, खेत-खलिहान में ग्वाल-किसान के अलगोजे और बांसुरी की सुरीली तान तो रेतीले धोरों में रावणहत्था-खड़ताल और तानपुरा पर गूंजती स्वर लहरियों पर थिरकते कालबेलियों को पूरे उत्साह व उमंग से देखने की चमक अब पूरी होने वाली है। जल्द ही सूरत में होली के फागोत्सव का रंग 'रमता ने काजळ-टीकी ल्याजो ए मां, घूमर रमवा म्हे जांस्या...Ó जैसे प्रसिद्ध लोकगीत के साथ बिखरने वाला है।
FAGOTSAV SURAT: कर्मभूमि सूरत की धरा पर बिखरेंगे जन्मभूमि मरुधरा के कई रंग
FAGOTSAV SURAT: कर्मभूमि सूरत की धरा पर बिखरेंगे जन्मभूमि मरुधरा के कई रंग
-मानों राजस्थान उतर आता है

होली के 10-15 दिन तक सूरत में मानों पूरा राजस्थान ही उतर आता है। बीकानेर के चौक-चौबारों पर चंग की थाप पर गूंजते फाग और होली के रसियों की लचकती कमर व उठते हाथ ही नहीं शेखावाटी का एक गायक के सुर में सबके सुर मिलाकर फाग व लोक गीत को तेज और ऊंची आवाज में भी सुरीला बना देना। उधर, अनोखी वेशभूषा में मारवाड़ के पाली, जालोर, सिरोही की गेर खेलते लोग लूर लेती महिलाओं को देख लगता है सूरत में राजस्थान साकार हो गया है।
-परम्परा का भी निवार्ह पूरा

गत 28 वर्षों से होली पर चार दिवसीय फागोत्सव मनाता आ रहा राजस्थान युवा संघ धार्मिक-सामाजिक परम्परा का पूरा निर्वाह करता है। 10-12 दिन पहले डांडारोपण कर हनुमानजी महाराज को मनाना और फागोत्सव के पहले दिन बीच मंच पर बड़ी मेज पर रखे नगाड़े का विधिवत पूजन और फिर धम-धम की धमक से मंच पर राजस्थानी लोक संस्कृति के बिखरते बहुरंग। मंच पर प्रस्तुति देने वालों में राजस्थान के नामी-गिरामी लोक कलाकार शामिल होते हैं।
-एक-दूसरे से मेल-मिलाप का दौर

सूरत में राजस्थान के लगभग सभी जिलों के प्रवासी वर्षों से रहते हैं और होली पर गांव-देस नहीं जाने का मलाल रखने के बजाय वे सब यहीं शहर, जिला-कस्बा स्तर पर होली स्नेहमिलन समारोह आयोजित कर एक-दूसरे से मेल-मिलाप कर लेते हैं। यह दौर भी लम्बा चलता है और इसमें लोक कला के साथ-साथ राजस्थानी 'फावणेÓ भी विशेष रूप से आमंत्रित किए जाते हैं। इनमें राजस्थान के नेता, संत, विशिष्टजन समेत अन्य लोग शामिल होते हैं।
-दोहरी खुशी का अवसर

तीन साल विराम के बाद इस बार होली पर सूरत में कई रंग फागोत्सव में बिखरने की जानकारी मिलने से खुशी है। गुजरात की गौरवमयी धरा पर राजस्थान युवा संघ के माध्यम से राजस्थानी लोक संस्कृति को जीवंत करने की परम्परा प्रारम्भ करने वालों में शामिल होने की खुशी भी सदैव रहेगी।
राजेंद्रसिंह शेखावत, संस्थापक प्रमुख, राजस्थान युवा संघ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

India-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शवFarmers protest: विरोध कर रहे किसानों से मिलेंगे CM मान, आखिर क्यों धरने पर बैठे किसान?जब कांस के दौरान खो गई दीपिका पादुकोण की ड्रेस तो आखिरी समय में किया गया ये बदलावबेटा IPL 2022 में ढा रहा कहर, मां इस बात से अनजान, भारतीय क्रिकेटर ने किया चौंकाने वाला खुलासा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.