सैकड़ों लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

सूरत जिले की ओलपाड तहसील के सायण गांव में गणपति विसर्जन यात्रा के दौरान हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत के बाद बेकाबू भीड़ ने मारूति...

By: मुकेश शर्मा

Published: 12 Oct 2018, 11:44 PM IST

बारडोली। सूरत जिले की ओलपाड तहसील के सायण गांव में गणपति विसर्जन यात्रा के दौरान हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत के बाद बेकाबू भीड़ ने मारूति वैन में आग लगाने के बाद सायण आउट पोस्ट में तोडफ़ोड़ की थी।

आक्रोशित लोगों ने पुलिस चौकी पहुंच कर आरोपी को सौंपने की मांग कर पुलिस जवानों के साथ धक्का-मुक्की की। इस मामले में पुलिस ने सोमवार को 700 से 800 लोगों की भीड़ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किया। उधर, सोमवार को मृतक धवल की अंतिम यात्रा निकाली गई, जिसमें सायण सहित आसपास के गांवों के लोग शामिल हुए। २१ वर्षीय युवक की हत्या को लेकर ग्रामीणों बाजार बंद रखा। मृतक की अंतिम यात्रा में भी पुलिस बंदोबस्त रहा।

पुलिस के अनुसार रविवार को गणपति विसर्जन यात्रा के दौरान सायण गांव में मारूति वैन ने एक युवक को टक्कर मार दी थी। इस बात को लेकर हुए मामूली विवाद के बाद वैन चालक ने धवल जगदीश पटेल (21) और दो अन्य लोगों पर चाकू से हमला कर दिया, जिसमें धवल की मौत हो जाने के बाद एकत्रित भीड़ ने वैन चालक चैतन्य महेंद्र रावत की पिटाई करनी शुरू कर दी थी। पुलिस ने मौके पर पहुंच वैन चालक को पकड़ कर पुलिस चौकी ले गई थी।

बाद में आक्रोशित भीड़ ने चैतन्य की वैन को आग लगा दी और पुलिस चौकी पर भी हमला कर खिडक़ी, दरवाजा और टेबल कुर्सी को नुकसान पहुंचाया। भीड़ ने सरकारी गाड़ी और घटना का कवरेज कर रहे एक पत्रकार का कैमरा और मोबाइल भी तोड़ दिया। पुलिस ने इस मामले में 700 से 800 लोगों की भीड़ के खिलाफ स्वयं शिकायतकर्ता बनकर मामला दर्ज किया। वहीं, सोमवार को मृतक धवल की अंतिम यात्रा निकाली गई, जिसमें सायण सहित आसपास के गांवों के लोग शामिल हुए। २१ वर्षीय युवक की हत्या को लेकर ग्रामीणों बाजार बंद रखा। मृतक की अंतिम यात्रा में भी पुलिस बंदोबस्त रहा।

महिलाओं को बंधक बनाकर लूट

कपराडा के वर्धा गांव में दो महिलाओं को बंधक बनाकर पांच बदमाशों ने नगदी और आभूषणों की लूट को अंजाम दिया। इससे गांव में भय का माहौल है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार देहवार फलिया निवासी मधु गावित आश्रमशाला में आचार्य हैं और अक्सर आश्रम में रहते हैं। गत रात्रि घर में सिर्फ उनकी माता और पत्नी ही थी। रात करीब दो बजे पांच बदमाश घर में दाखिल हुए और दोनों को चाकू दिखाकर डरा दिया। बाद में दोनों को कंबल से बांध दिया और उनका मंगलसूत्र, सोने के अन्य आभूषण और 25 हजार नगद लूट कर फरार हो गए। किसी तरह महिलाओं ने पड़ोसियों को इस बारे में बताया तो पुलिस को सूचना दी गई। लूट की बात पता चलने पर मधु गावित भी पहुंचे और कपराडा पुलिस में मामला दर्ज करवाया।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned