CORONA NEWS : जहां परीक्षा नहीं हो पाई उन स्कूलों को करना होगा सरकारी दिशा निर्देश का इंतजार

- दिशा-निर्देश के आधार पर परीक्षा लेने का गुजरात बोर्ड ने दिया आदेश...

- स्कूलों को अनिवार्य रूप से जमा करने होंगे १२वीं विज्ञान वर्ग कम्प्यूटर के माक्र्स

 

By: Divyesh Kumar Sondarva

Published: 22 Apr 2021, 07:37 PM IST

सूरत.

कोरोना काल के बीच गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने स्कूलों से १२वीं विज्ञान वर्ग कम्प्यूटर के माक्र्स मांगे हैं, जो ऑनलाइन सबमिट करना होगा। कोरोना के चलते जिन स्कूलों में परीक्षा आयोजित नहीं हो पाई हो तो उन्हें सरकार की तरफ से आने वाले दिशा-निर्देश का इंतजार करने का आदेश दिया गया है। इसके बाद नए दिशा-निर्देश के आधार पर ही परीक्षा आयोजित कर बोर्ड को कंप्यूटर के अंक जमा होगा।

कोरोना संक्रमण के बीच बोर्ड के विद्यार्थी अपने भविष्य को लेकर चिंतित हो रहे हैं। उधर, कई स्कूल संचालक भी तरह-तरह के दिशा निर्देशों को लेकर तनाव में रहने लगे हैं। सरकार ने हाल ही में गुजरात बोर्ड १०वीं और १२वीं की परीक्षा को स्थगित करने का आदेश जारी किया था। साथ ही १ से ९वीं और ११वीं के विद्यार्थियों को प्रमोशन देने की घोषणा की थी। जबकि इससे पहले मई में परीक्षा आयोजित करने की घोषणा हुई थी। कोरोना गाइडलाइन के आधार पर प्रायोगिक परीक्षा लेने का आदेश दिया था। फिर अचानक स्कूलों में ऑफलाइन शिक्षा बंद करवा दी गई थी। इस तरह के नए - नए आदेशों से स्कूल प्रशासन भी परेशान रहने लगा है। अब बोर्ड ने स्कूलों को १२वीं विज्ञान वर्ग के विद्यार्थियों के कम्प्यूटर के अंक १५ अप्रेल से १५ मई तक ऑनलाइन जमा करने को कहा गया है। कम्प्यूटर की प्रायोगिक परीक्षा १९ मार्च से पहले स्कूलों को आयोजित करने की सूचना दी गई थी। वैसे तो ज्यादातर स्कूलों ने कम्प्यूटर की परीक्षा ले ली है, लेकिन कोरोना के कारण जो स्कूल परीक्षा नहीं ले पाए, उन्हें आने वाले दिनों में परीक्षा आयोजित करने की सूचना दी गई है। सरकार के दिशा-निर्देश अनुसार परीक्षा आयोजित करनी होगी। इसके बाद ऑनलाइन अंक सबमिट करने होंगे। स्कूल प्रशासन अब इस कौतूहल में है कि सरकार की ओर से परीक्षा और पढ़ाई को लेकर कौन से नए दिशा निर्देश आएंगे।

Show More
Divyesh Kumar Sondarva Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned