सीएम ऑफिस के नाम फाइव स्टार होटलों में रूम बुक करवा करता था अय्याशी

सीएम ऑफिस के नाम फाइव स्टार होटलों में रूम बुक करवा करता था अय्याशी

Dinesh M.Trivedi | Publish: Apr, 22 2019 08:52:37 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 08:52:38 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India


-सूरत के होटल से ठगी के आरोप में युवक गिरफ्तार

सूरत. मुख्यमंत्री कार्यालय के नाम पर देश के फाइव स्टार होटलों में बुकिंग करवा कर अय्याशी करने वाले एक ठग को उमरा पुलिस ने रविवार रात पार्ले प्वॉइंट के एक फाइव स्टार होटल से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सोमवार सुबह उसे अदालत में पेश किया, जहां उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया।


पुलिस उप निरीक्षक ए.के.जाड़ेजा ने बताया कि आरोपी भालिन्द्र पाल सिंह पंजाब के मोहाली का मूल निवासी है तथा राजस्थान के जयपुर में रहता है। बैग और जूतों का व्यापार करने वाला भालिन्द्र लंबे समय से फाइव स्टार होटलों के साथ ठगी कर रहा था।

वह सीएम ऑफिस के कर्मचारी के रूप में पहचान देकर कमरा बुक करवाता था और कुछ दिन होटल की सुविधाओं का लाभ लेने के बाद फरार हो जाता था। उसने पार्ले प्वॉइंट के एक होटल में फोन किया। उसने होटल के कर्मचारी कुशल धुगे को अपनी पहचान सीएम ऑफिस के कर्मचारी के रूप में देकर दो लोगों के लिए रूम बुक करवाया। वह साक्षी नाम की युवती के साथ सूरत पहुंचा। उसने होटल से एयरपोर्ट के लिए कार भी मंगवाई। सीएम ऑफिस का कर्मचारी होने के कारण होटल स्टाफ ने उसे तुरंत रूम आवंटित कर दिया। बाद में कुशल धुगे को देशभर के होटलों के कर्मचारियों के व्हॉट्सएप ग्रुप में सीएम ऑफिस के नाम पर बुकिंग करवा कर ठगी की घटनाओं के बारे में पता चला। उसे भालिन्द्र पर संदेह हुआ। उसने अपने स्तर पर तस्दीक करने के बाद शाम को उमरा पुलिस को सूचना दी।

पुलिस होटल पहुंच गई। पुलिस ने भालिन्द्र से सीएम ऑफिस का पहचान पत्र मांगा तो उसकी पोल खुल गई। पुलिस ने कुशल धुगे की प्राथमिकी के आधार पर होटल को हुए १० हजार १०० रुपए के नुकसान और ठगी के संदर्भ में मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। सोमवार सुबह पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया। सुनवाई के बाद उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया।


सांसद चाचा के साथ रह कर जाना रसूख


पुलिस पूछताछ में भालिन्द्र ने बताया कि वह मोहाली के रसूखदार राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखता है। उसके चाचा कांग्रेस के सांसद थे, जिनका सालभर पहले देहांत हो चुका है। उनके साथ रहने के दौरान उसे सीएम ऑफिस के रसूख के बारे में पता चला। उसे पता था कि सीएम ऑफिस का नाम लेेने पर बिना पड़ताल फाइव स्टार होटलों में रूम बुक हो जाता है। वह होटलों में इस तरह से बुकिंग करवा कर ठगी करता था।


सूरत मेें दर्ज हुआ पहला मामला


भालिन्द्र ने दिल्ली, मुंबई, राजस्थान, कोलकाता, हैदराबाद समेत देश के कई शहरों की फाइव स्टार होटलों में ठगी करना कबूल किया है, लेकिन उसके खिलाफ कहीं कोई पुलिस शिकायत दर्ज नहीं हुई थी। पुलिस ने बताया कि उसकी बताई होटलों में संपर्क किया गया, लेकिन कोई होटल प्रबंधन शिकायत देने के लिए तैयार नहीं हुआ।


कपड़े खरीदने के लिए लाया था युवती को


पुलिस ने बताया कि भालिन्द्र के साथ आई युवती साक्षी राजस्थान के भरतपुर की रहने वाली है। वह कुछ समय पहले फेसबुक के जरिए उसके संपर्क में आई थी। उसे कपड़े के कारोबार की जानकारी होने के कारण भालिन्द्र ने उसके साथ मिलकर कपड़ा व्यापार शुरू करने की बात की थी। कपड़े खरीदने के लिए वह उसे सूरत लेकर आया था। साक्षी को भालिन्द्र के ठगी के गोरखधंधे के बारे में जानकारी नहीं थी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned