एनआरआई, कॉलेजियन और हाउस वाइफ से दोस्ती के साथ आमदनी का देते थे झांसा


- फ्रेंडशिप क्लब के नाम से विज्ञापन देकर चला रहे थे ठगी का गोरखधंधा
- महिला समेत दो को साइबर क्राइम पुलिस ने मुंबई से पकड़ा

 

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 31 Jul 2021, 10:46 AM IST

सूरत. संचार माध्यमों में एनआरई, कॉलजियन, हाउस वाइफ समेत मॉडल समेत विभिन्न युवतियों के साथ दोस्ती करने के आदमनी के विज्ञापन देकर ठगी का रैकेट चलाने वाली एक महिला समेत दो जनों को सूरत साइबर क्राइम पुलिस ने मुंबई से गिरफ्तार किया हैं।

साइबर क्राइम पुलिस के मुताबिक मुंबई के विरार वेस्ट मुकेश अपार्टमेंट निवासी आरोपी रामआशीष पासवान व नाला सोपारा जीवन ज्योत अपार्टमेंट निवासी सुष्मा शेट्टी मिल कर सूरत के युवक के साथ 69 हजार 410 रुपए की ठगी की थी। गत वर्ष नवम्बर में उन्होंने कोमल ब्यूटी पार्लर के नाम से एक विज्ञापन दिया था।

जिसमें एनआरआई युवतियों से मुलाकात, दोस्ती के साथ उन्हें खुश करने पर 25-30 हजार रुपए की आमदनी होने की बात बताई गई थी। संपर्क के लिए बाबूभाई और सोनिया के नाम से मोबाइल अलग अलग मोबाइल नम्बर दिए गए थे। पीडि़त युवक ने नम्बर पर संपर्क किया तो उसे फ्रेंडशिप क्लब में शामिल होने के लिए रजिस्ट्रेशन समेत अलग अलग किस्म के चार्ज व गेस्ट हाउस बुकिंग आदि के बहाने टुकड़ों में गूगल पे से रुपए ले लिए।

लेकिन किसी युवती से कोई मुलाकात नहीं करवाई और न ही उसके रुपए लौटाए। इस संबंध में मार्च में पीडि़त शिकायत मिलने पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। तकनीकी सर्वेलंस के आधार पर आखिरकार पुलिस ने रामआशीष व सुष्मा तक पहुंची और उन्हें गिरफ्तार कर सूरत ले आई। पुलिस उनसे इस रैकेट में शामिल अन्य आरोपियों के बारे में पूछताछ कर रही है।

ग्यारह बैंक खातों में मिले 1.67 करोड़ का लेनदेन

पुलिस ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से आधा दर्जन मोबाइल फोन, विभिन्न बैंकों की नौ पास बुक, पांच एटीएम कार्ड जब्त किए गए हैं। वहीं रामआशीष के ग्यारह बैंक खातों की जानकारी मिली है। जिनमें कुल 1.67 करोड़ रुपए के ट्रांजेक्शन मिले हैं। इन खातों के बारे में विस्तृत पूछताछ व पड़ताल की जा रही हैं।

सूरत समेत अन्य बड़े शहरों में फैला रखा था जाल

बिहार के मधुबनी जिले के झांजपट्टी गांव का मूल निवासी रामआशीष शातिर हैं वह 2009 से इस तरह झांसा देकर ठगी करने के मामलों में लिप्त रहा हैं। वह सिर्फ सूरत ही नहीं बल्कि वडोदरा, अहमदाबाद, मुंबई, बैंग्लूरू, चेन्नई, हैदराबाद व दिल्ली जैसे शहरों के विभिन्न दैनिक समाचार पत्रों व अन्य संचार माध्यमों में कोमल ब्यूटीपार्लर व अन्य नामों से विज्ञापन देकर ठगी कर रहा था।
----------------------

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned