धूमधाम से आज विराजेंगे गणपति बप्पा

धूमधाम से आज विराजेंगे गणपति बप्पा

Sunil Mishra | Publish: Sep, 12 2018 08:53:16 PM (IST) Surat, Gujarat, India

शहर में डेढ़ हजार गणेश प्रतिमाओं की होगी स्थापना


वलसाड. गणेश चतुर्थी पर गुरुवार से शहर में गणेश महोत्सव का आरंभ हो रहा है। इसके अंतर्गत वलसाड में डेढ़ हजार से ज्यादा जगहों पर गणपति बप्पा की स्थापना कर पूजा अर्चना की जाएगी। मंडलों में बुधवार तक गणेशजी को पहुंचा दिया गया था। वहीं, सैकड़ों लोग गुरुवार सुबह शुभमुहूर्त में मूर्तियां लाएंगे। शहर के छीपवाड़, मोटा बाजार, आजाद चौक, नाना ताइवाड़, शहीद चौक से लेकर तिथल रोड समेत सभी गली मोहल्लों में पंडाल सज चुके हैं। वहीं, महोत्सव को निर्विघ्न रूप से संपन्न कराने में जुटी पुलिस ने बताया है कि सात सौ से ज्यादा सार्वजनिक गणेशजी की स्थापना होने वाली है। इसमें से ज्यादातर लोगों ने अनुमति प्राप्त कर ली है। इसके अलावा घरों में भी लोग बप्पा की स्थापना करेंगे। पुलिस ने भी सुरक्षा बंदोबस्त किया है। रात्रि पेट्रोलिंग के साथ गणेश पंडालों की भी चेकिंग होगी, ताकि जुआ व शराब सेवन जैसी प्रवृत्तियां न हो सकें।

धरमपुर में पकड़ी गई बिजली चोरी
वलसाड. सूरत विजिलेन्स की टीम ने धरमपुर तहसील के कई गांवों में जांच कर बिजली चोरी के मामले पकड़े हैं। इसके अंतर्गत पांच लाख रुपए से ज्यादा का जुर्माना वसूला गया है।
बिजली चोरी की सूचना मिलने पर सूरत विजिलेन्स ने गत रोज धरमपुर के 30 गांवों में जांच की। इसके अंतर्गत कांगवी, भेंसधरा, बिलपुड़ी, खारवेल जैसे कई गांव शामिल हैं। विभाग के अधिकारियों ने पांच सौ से ज्यादा कनेक्शनों और मीटर की जांच की। इस दौरान 20 जगहों पर गड़बड़ी पाई गई। बारीकी की जंाच में बिजली चोरी का मामला पकड़ में आने पर जुर्माना लगाया गया। इस दौरान पांच लाख रुपए से ज्यादा की राशि वसूल की गई है। बताया गया है कि औचक जांच की खबर लगते ही कई गांव में लोगों ने कनेक्शन निकाल दिया था।

महिलाओं ने मनाई तीज
वलसाड. गणेश चतुर्थी से एक दिन पहले विवाहिताओं ने श्रद्धा भक्ति के साथ बुधवार को केवड़ा तीज मनाई। इसके तहत शहर में महिलाओं ने व्रत रहकर मंदिरों में पूजा अर्चना की और सिर में केवड़ा का पान लगाया। पूरे दिन उपवास रहकर शाम को पूजा अर्चना के बाद महिलाओं ने व्रत का समापन किया। महिलाओं ने बताया कि केवड़ा तीज पति की लंबी उम्र के लिए मनाई जाती है। इसका बहुत महत्व होता है। बताया गया कि गणपति बप्पा की स्थापना से एक दिन पहले यह तीज मनाई जाती है और उनकी स्थापना के बाद ही कुछ खा सकते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned