scriptGram Panchayat did not get possession of Gaucharan even after two year | ग्राम पंचायत को दो साल बाद भी नहीं मिला गौचरण का कब्जा | Patrika News

ग्राम पंचायत को दो साल बाद भी नहीं मिला गौचरण का कब्जा

भूमि की सीमा तय नहीं हो सकने के कारण हो रही देरी

सूरत

Published: August 04, 2021 05:17:14 pm

बारडोली. बारडोली तहसील की तेन ग्राम पंचायत की 30 बीघा गौचरण की जमीन का कब्जा तहसीलदार के आदेश के दो साल बाद भी नहीं मिल सका है। ग्राम पंचायत ने गौचरण की भूमि मापने के लिए एक साल पूर्व डीआइएलआर से मांग की है, लेकिन अभी भी मापनी नहीं होने से कब्जा रुका हुआ है। साल 2007 में तहसीलदार ने अवैध रूप से गौचरण की भूमि में 26 कब्जेदारों के नाम दाखिल कर दिये थे। जिसे एक व्यक्ति के चुनौती देने पर 2019 में तहसीलदार ने सभी नामों को निरस्त कर भूमि को फिर से गौचरण में तब्दील करने का आदेश दिया था। आदेश के दो साल बाद भी ग्राम पंचायत को गौचरण की भूमि पर कब्जा नहीं मिला है।
ग्राम पंचायत को दो साल बाद भी नहीं मिला गौचरण का कब्जा
जानकारी के अनुसार बारडोली तहसील के तेन गांव की सीमा में स्थित सर्वे नंबर 381/1 और ब्लॉक नंबर 76/1 वाली 30 बीघा भूमि साल 1951-52 से गौचरण भूमि के रूप में दर्ज थी। कम्प्यूटराइजेशन के वक्त साल 2007 में अवैध रूप से ब्लॉक नंबर 319 के 26 कब्जेदारों के नाम इस ब्लॉक नंबर 76/1 वाली गौचरण की जमीन में दाखिल कर दिए गए थे। साल 2019 में तहसीलदार ने एक सुनवाई में सभी नामों को निरस्त कर गौचरण की जमीन का कब्जा ग्राम पंचायत तेन को देने का आदेश दिया था। इसके बावजूद गौचरण की भूमि पर कब्जेदार खेती कर रहे हैं।
इस बारे में फिर एक बार शिकायतकर्ता इब्राहिम दाऊद के द्वारा बारडोली एसडीएम को शिकायत की गई और सभी 26 कब्जेदारों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करने की मांग की गई। इस शिकायत पर गौर करने के बाद वर्ष 2020 में 25 सितंबर को बारडोली एसडीएम ने ब्लॉक नंबर 76/1 वाली गौचरण की जमीन पर कब्जा लेकर कार्रवाई करने के लिए तालुका विकास अधिकारी को आदेश दिया था। इस आदेश के एक साल बाद भी ग्राम पंचायत के कब्जे में 30 बीघा जमीन नहीं आ सकी है। इसकी वजह भूमि की सीमा का तय नहीं होना है। जानकारों के मुताबिक सीमा तय हो तभी ग्राम पंचायत कब्जा ले सकती है।
ग्राम पंचायत ने सीमा तय करने के लिए डीआइएलआर में बीते साल 26 अक्टूबर को आवेदन करते हुए 2700 रुपए की फीस भी जमा करवा दी थी। इसके बाद भी अबतक सीमा तय नहीं हो पाई है। ग्राम पंचायत के पटवारी पठाण ने बताया कि हमने एक साल पूर्व गौचरण की भूमि का कब्जा लेने के लिए डीआइएलआर में भूमि मापन के लिए आवेदन दिया था। अभी तक भूमि मापन के लिए कोई आया नहीं है। जबतक सीमा तय नहीं होती, कब्जा नहीं मिल सकता।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानापूर्व CM अशोक चव्हाण ने किया खुलासा: BJP सांसद मुरली मनोहर जोशी ने रिपोर्ट में खुद कहा 'PM मोदी सेना के साथ खिलवाड़ कर रहे'NeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछPandit Jasraj Cultural Foundation: संगीत के क्षेत्र में भी होना चाहिए तकनीक और आईटी का रिवॉल्यूशन: PM ModiCorona: गुजरात में कोरोना को मात दे चुके हैं 10 लाख से अधिक लोगकाशी विश्वनाथ मॉडल पर बनेगा महांकाल कॉरीडोर, सिंहस्थ-28 पर अभी से कामCovid-19 Update: महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,948 नए मामले, 103 मरीजों की मौत हुई।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.