जीएसटी का पेंच बरकरार, मनपा टीम २१ के दबाव में

मनपा प्रशासन ने भले अमल के पहले ही दिन जीएसटी पर अमल शुरू कर दिया हो, लेकिन जीएसटी का पेंच अभी पूरी तरह निकला नहीं है। मनपा टीम इन दिनों २१ अगस्त के द

By: मुकेश शर्मा

Published: 22 Aug 2017, 11:04 PM IST

सूरत।मनपा प्रशासन ने भले अमल के पहले ही दिन जीएसटी पर अमल शुरू कर दिया हो, लेकिन जीएसटी का पेंच अभी पूरी तरह निकला नहीं है। मनपा टीम इन दिनों २१ अगस्त के दबाव में है।

पहले ही दिन जीएसटी लगाकर मनपा प्रशासन देश की पहली मनपा बन गई थी। यह टैक्स मनपा की एक संपत्ति की बुकिंग के किराए पर लगाया गया था। कैपिटल बजट के भुगतान पर जीएसटी की गणना के लिए मनपा प्रशासन ने कंसलटेंट की भी नियुक्ति की है। कंसलटेंट की सलाह पर मनपा टीम को हिदायत दी गई थी कि सभी पैंडिंग बिलों को २१ अगस्त तक हर हाल में निपटा लिया जाए। विभागवार अधिकारियों ने ऐसे बिलों को क्रमबद्ध करने और उनके निपटारे के लिए टीम भी बनाई।

२१ अगस्त की डेडलाइन बिल्कुल समीप आई तो अधिकारियों की बेचैनी भी बढ़ गई है। डेडलाइन में महज एक दिन शेष है और मनपा के विभिन्न विभागों को अब तक लंबित पुराने बिलों का निपटारा करना है। कई विभागों में ऐसे कई बिल हैं, जो तीन से पांच साल पुराने पेंडिंग हैं। अधिकारियों और ठेकेदारों के बीच विवाद के कारण इन बिलों का निपटारा नहीं हुआ है। अधिकारियों की कोशिश है कि ऐसे सभी बिलों का समय रहते निपटारा करा लिया जाए। इसके लिए पुराने बिलों पर ठेकेदारों के साथ नए सिरे से संवाद शुरू हुआ है।

विभागीय प्रमुखों ने विवादों से निपटने के लिए बीच के रास्ते भी खोजे हैं, जिनमें ठेकेदारों का हित भी सध जाए और तय समय में बिलों का निपटारा भी जो जाए। जिन विभागों में अंतिम कार्यदिवस पर शनिवार तक पेंडिंग बिलों का निपटारा नहीं हुआ है, उन अधिकारियों-कर्मचारियों को रविवार को दफ्तर आकर काम करने की हिदायत दी गई है।

वीमेन्स कॉलेज में वेस्ट से बेस्ट

अठवा लाइंस के वनिता विश्राम वीमेन्स कॉलेज में शनिवार को रंग, कला और कौशल्य के अंतर्गत हैंडीक्राफ्ट प्रोडक्ट्स, चॉकलेट बुके की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। छात्राओं ने इसमें वेस्ट से हेंगिग वॉल, फैशन ज्वैलरी, क्रोशिया आर्ट, गिफ्ट आर्टिकल्स, पेन स्टेंड जैसे प्रोडक्ट्स बनाकर प्रदर्शित किए।

GST
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned