गुजरात बोर्ड परीक्षा 2018 : कैमरों के सामने ही खोली जाएगी प्रश्नपत्रों की सील

गुजरात  बोर्ड परीक्षा 2018 : कैमरों के सामने ही खोली जाएगी प्रश्नपत्रों की सील

Divyesh Kumar Sondarva | Publish: Mar, 14 2018 08:32:56 PM (IST) Surat, Gujarat, India

गुजरात बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों के लिए जारी किया आदेश, पालना नहीं होने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

सूरत. गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के प्रश्नपत्रों की सील सीसी कैमरों के समक्ष खोली जाएगी। गुजरात बोर्ड ने सभी परीक्षा केन्द्रों के लिए यह आदेश जारी किया है। आदेश का पालन नहीं होने पर परीक्षा केन्द्र, ड्यूटी पर उपस्थित अधिकारी और निरीक्षक पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
गुजरात बोर्ड ने परीक्षा की विश्वसनीयता बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है। बोर्ड ने उन्हीं स्कूल को परीक्षा केन्द्र सौंपे हैं, जहां 100 प्रतिशत सीसी कैमरे हैं। परीक्षा के बाद सीसी कैमरों की रिकॉर्डिंग से परीक्षार्थियों और निरीक्षकों की गतिविधियों का निरीक्षण किया जाता है। इसके आधार पर नकलची पकड़े जाते हैं और लापरवाह निरीक्षकों पर कार्रवाई की जाती है। अपने ताजा आदेश में बोर्ड ने कहा है कि परीक्षार्थियों को प्रश्नपत्र देने से पहले सारी गतिविधि कैमरे में कैद होनी चाहिए। परीक्षा पूर्ण होने के बाद उत्तर पुस्तिकाओं को सील करने की प्रक्रिया भी सीसी कैमरों के सामने की जाए।
बोर्ड परीक्षा शुरू होने के बाद प्रश्नपत्र लीक होने के आरोप लगने लगे हैं। सोशल मीडिया पर प्रश्नपत्रों को लेकर अफवाहें भी फैल रही हैं। इसलिए बोर्ड ने यह फैसला किया। परीक्षार्थियों की सीडी का निरीक्षण करने वाले निरीक्षकों को आदेश दिया गया है कि वह पहले प्रश्नपत्र और उत्तर पुस्तिकाएं सील किए जाने के फुटेज की जांच करें। सीडी में यह फुटेज न हो तो बोर्ड को सूचना दी जाए। सूचना के आधार पर परीक्षा केन्द्र पर तैनात अधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी।

patrika photo

निरीक्षकों पर भी नजर
गुजरात बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों में नकल, डमी विद्यार्थी और मोबाइल पकडऩे के लिए कड़े आदेश दिए हैं। सीसी कैमरों से निरीक्षकों के कार्य पर भी नजर रखी जा रही है। बोर्ड ने परीक्षा में नकल रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। सीसी कैमरों वाले स्कूलों को ही परीक्षा केन्द्र सौंपे गए हैं। जहां सीसी कैमरे नहीं हैं, वहां टेबलेट की व्यवस्था की गई है। स्थानीय स्कवॉड के साथ राज्य स्तर के स्कवॉड को भी तैनात किया गया है। परीक्षा खंड में इलेक्ट्रोनिक गेजेट पर रोक है। परीक्षा से ठीक पहले नकल पर अंकुश के लिए एक्शन प्लान बनाया गया था। जिला शिक्षा अधिकारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में ड्यूटी करने वालों को एक्शन प्लान के अनुसार कार्य करने का आदेश दिया गया था।

Ad Block is Banned