GUJARAT BJP NEWS: जताई नाराजगी, सौंपे इस्तीफे, पुलिस रही तैनात

-अलग-अलग वार्ड के पार्टी कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन, वार्ड 18 के कार्यकर्ताओं ने सौंपे इस्तीफे

By: Dinesh Bhardwaj

Published: 05 Feb 2021, 09:09 PM IST

सूरत. भाजपा प्रत्याशियों की सूची में समर्थक नेताओं के नाम शामिल नहीं होने पर शुक्रवार को सुबह से दोपहर तक भाजपा कार्यालय के बाहर नाराज कार्यकर्ता हंगामा करते रहे। इस दौरान वहां पुलिस बल भी बुलाया गया और बाद में कई नाराज कार्यकर्ता इस्तीफे सौंपकर चले गए।
वर्ष 2005 में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सूरत समेत सभी महानगरपालिका के चुनाव में नो रिपिटेशन का फार्मूला भाजपा ने अपनाया था और पार्टी ने सभी जगहों पर शानदार जीत हासिल की थी। इसके बाद भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने भी 15 साल पुराने फार्मूले को बेहद करीब से अपनाते हुए 60 से अधिक उम्र के कार्यकर्ता, पार्टी पदाधिकारी के रिश्तेदार व तीन टर्म से पार्षद रहे कार्यकर्ताओं को टिकट नहीं देने का फैसला हाल के मनपा चुनाव में किया और उसके अनुरूप ही पार्टी प्रत्याशियों की सूची गुरुवार को घोषित की। प्रत्याशियों की सूची जारी होने के साथ ही नाराज कार्यकर्ताओं का रुख गुरुवार रात से ही सामने आने लगा था जो कि शुक्रवार सुबह भाजपा कार्यालय के बाहर विस्फोटक रूप में देखने को मिला। इस दौरान शहर के वराछा, परवत पाटिया, डिंडोली, पांडेसरा-भेस्तान क्षेत्र स्थित वार्डों के नाराज कार्यकर्ता भाजपा कार्यालय के बाहर जमा हो गए और नारेबाजी कर विरोध जताने लगे। नाराज कार्यकर्ताओं के विरोध के दौरान ही पार्टी कार्यालय में भाजपा लीगल सेल के सदस्य वकील व नोटेरियन प्रत्याशियों के नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया पूरी कर रहे थे। स्थिति को भांपते हुए बाद में वहां पुलिस बुलवाई गई।

-7-8 लाख की आबादी, एक भी टिकट नहीं

लघु भारत के रूप में गिने जाते सूरत महानगर में उड़ीसा राज्य के 7-8 लाख लोग रहते हैं और पिछले महानगरपालिका चुनाव तक प्रवासियों को एक-दो सीट पर चुनाव लडऩे का अवसर भाजपा देती रही है लेकिन, इस बार एक भी सीट नहीं दी गई। इससे नाराज पांडेसरा-भेस्तान के वार्ड 28 के कई कार्यकर्ता सुबह पार्टी कार्यालय पहुंचे। इस दौरान मौजूद किरणबेन ने बताया कि गत दिनों केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के समक्ष भी समाज ने मनपा चुनाव में टिकट की मांग रखी थी और उन्होंने 2-3 सीट के लिए आश्वस्त भी किया था मगर सूची में उड़ीसावासी का एक भी नाम शामिल नहीं है।

थोड़ी-बहुत थी नाराजगी

कुछ कार्यकर्ता सुबह भाजपा कार्यालय आए थे और समाज स्तर पर टिकट नहीं मिलने की शिकायत बताए थे। सभी को पार्टी पदाधिकारियों ने समझाया तो वे मान गए और पार्टी संगठन हित में प्रचार कार्य में जुट जाने की बात कहकर चले गए।

किशोर बिंदल, महामंत्री, भाजपा सूरत महानगर इकाई

-डेढ़ सौ कार्यकर्ताओं ने सौंपे इस्तीफे

वार्ड 18 के पैनल में शामिल तीन प्रत्याशियों को वार्ड से बाहर का बताते हुए क्षेत्र के कई पार्टी कार्यकर्ता सुबह भाजपा कार्यालय पहुंचे। इनकी अगुवाई कर रहे वार्ड के पूर्व अध्यक्ष रमेश रबारी, महामंत्री जीतू पटेल आदि ने बताया कि वे सभी पार्टी के निष्ठावान कार्यकर्ता है, लेकिन हर बार उन्हें बगैर ठोस वजह से उम्मीदवार सूची से बाहर रखा जाता है। पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते उनका यह अधिकार है पर संगठन उन्हें हर बार वंचित कर देता है। इससे नाराज उनके समर्थक डेढ़ सौ से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा सौंपा है।

-मतदाताओं की अवहेलना बर्दाश्त नहीं

डिंडोली के वार्ड 26 से भाजपा कार्यालय पहुंचे नाराज पार्टी कार्यकर्ताओं ने बताया कि उनके वार्ड में 25 हजार से ज्यादा गुजराती मतदाता है लेकिन, इसके बावजूद पार्टी के कुछ नेताओं ने मनमर्जी से निर्णय करते हुए समाज के कार्यकर्ताओं को प्रत्याशी सूची में शामिल नहीं किया है। इसे गलत बताते हुए नाराज कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय पहुंचकर पार्टी से अपने फैसले को बदलने की मांग की। इस दौरान वराछा समेत शहर के अन्य क्षेत्र में स्थित दूसरे वार्डों के पार्टी कार्यकर्ता भी नाराजगी जाहिर करने पार्टी कार्यालय पहुंचे थे।

GUJARAT BJP NEWS: जताई नाराजगी, सौंपे इस्तीफे, पुलिस रही तैनात
Dinesh Bhardwaj Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned