gctoc act : हिन्दुवादी नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड के आरोपी समेत दो हिरासत में

- टामेटा गैंग के खिलाफ गुजसीटोक का मामला..

.. Hinduist leader Kamlesh Tiwari in custody, including two accused in the murder case

By: Dinesh M Trivedi

Published: 03 Mar 2021, 09:54 AM IST

सूरत. क्राइम ब्रांच ने गुजसीटोक (जीसीटीओसी) के मामले में कुख्यात आसिफ टामेटा गैंग के दो जनों को अलग- अलग जेलों से हिरासत में लेकर मंगलवार को कोर्ट में पेश किया और दोनों को पूछताछ के लिए पन्द्रह दिन के रिमांड पर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, टामेटा गैंग का सचिन पारड़ी गांव शिवनगर सोसायटी निवासी युसुफ खान पठान उत्तरप्रदेश के नाका हिंडोला पुलिस थाना क्षेत्र में हुई हत्या के माले में लखनऊ जेल में बंद था। उसे लखनऊ जेल से ट्रांसफर वांरट के आधार पर हिरासत में लिया गया। इसी तरह गैंग का एक और गुर्गा मीठीखाड़ी इन्द्रा वसाहत निवासी मोहम्मद शोएब उर्फ सिटी भी लिम्बायत थानाक्षेत्र में हुई हत्या के मामले में लाजपोर जेल में बंद था।

उसे लाजपोर से जेल से हिरासत में लिया गया है। दोनों से गैंग की गतिविधियों व उत्तरप्रदेश के नाका हिंडोला थानाक्षेत्र में हुई हिन्दुवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या में भूमिका। अपहरण, फिरौती, हत्या समेत अन्य संगीन अपराधों के संगठित रूप से संचालन में उनकी भूमिका के बारे में पूछताछ की जाएगी। यहां उल्लेखनीय हैं कि आसिफ टामेटा गैंग के कुल 14 गुर्गो में से दो इमरान सिद्दीकी उर्फ छोटू व शाहरुख शाह उर्फ उमर अभी भी फरार है।

29 सौ के चक्कर में 49 हजार गंवाए, गूगल पर मिला फर्जी नम्बर


सूरत. फोन पे एप से पैमेंट किए गए 29 सौ रुपए वापस पाने के लिए साइबर ठगों के चक्कर में फंसे युवक के बैंक खाते से 49 हजार रुपए पार हो गए। लिम्बायत रतनजीनगर निवासी पीडि़त मोहम्मद परवेज ने 4 जनवरी को राउटर डीवीआर आदि सामान खरीदा था। जिनका पैमेंट फोन पे से किया था। उसके अकाउन्ट से रुपए कट गए थे लेकिन दुकानदार को नहीं मिले। रुपए वापस लेने के लिए उसने गूगल पर फोन पे कस्टमर केयर का नम्बर सर्च किया। उसे जो नम्बर मिला वह फर्जी था। उसने बात तो रुपए लौटाने का झांसा देकर साइबर ठग ने उसके बैंक खाते की जानकारी हासिल कर ली और उसके खाते से 49 हजार रुपए पार कर दिए।

बकाया पैमेंट मांगने पर व्यापारी को जान से मारने की धमकी दी


सूरत. सलाबतपुरा पुलिस के मुताबिक तेलंगाना के करीमनगर के सत्यनारायण बोगा, उसके दो पुत्रों श्रीनाथ व रमेश ने मिल कर पर्वत पाटिया के मगोब स्थित दर्शन रेसीडेंसी निवासी मगराज अमृतलाल राठी के साथ 17.47 लाख की धोखाधड़ी की। तीनों ने 2019 में मगराज की रिंग रोड शिवशक्ति टेक्सटाइल मार्केट स्थित दुकान से कपड़ा उधार लिया। पैमेंट मांगने पर जान से मारने की धमकी दी।

सुपरवाइजर का मोबाइल और नकदी चोरी


सूरत. कतारगाम वस्तादेवड़ी इलाके की एक फैक्ट्री में रात को छत पर सोए सुपरवाइजर का मोबाइल फोन व नकदी समेत 16 हजार रुपए का सामान चोरी हो गया। बिहार के बक्सर जिले के गोविंदपुर गांव निवासी सुपरवाइजर पिंटू गुप्ता इस संबंध में कतारगाम थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई है।
--------------------------------

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned