ग्यारस को यो मेळो आयो, भक्तों चाला सुरतधाम...


उमड़ा श्यामभक्तों का सैलाब
फाल्गुल एकादशी पर सुबह से लगा श्रद्धालुओं का हुजूम, देर रात तक चलता रहा दर्शन का सिलसिला
Swamp of devotees
The devotees gathered on Phalgul Ekadashi since morning, the procession of darshan continued till late night

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 07 Mar 2020, 01:17 PM IST


सूरत. जिसे देखो उसके ही कदम फाल्गुन शुक्ल एकादशी शुक्रवार को वेसु में वीआईपी रोड पर श्रीश्याम मन्दिर, सुरतधाम की ओर बढ़ते दिख रहे थे और यह सिलसिला सुबह से देर रात तक मन्दिर प्रांगण के बाहर चलता रहा। इस अवसर पर हजारों श्याम भक्तों ने मंदिर में बाबा श्याम के अनूठे दरबार में शीश झुकाया और पीत पताका अर्पित की।
फाल्गुन मास के उपलक्ष में श्रीश्याम मंदिर, सूरतधाम में तीन दिवसीय श्रीश्याम फाल्गुन महोत्सव की शुरुआत गुरुवार को भजन संध्या व सुंदरकाण्ड पाठ के साथ की गई। वहीं, फाल्गुन शुक्ल एकादशी के अवसर पर शुक्रवार को श्यामभक्तों का रेला तेज बारिश में भीगते हुए भी मंदिर प्रांगण में बाबा के दर्शन के लिए उमड़ा। हजारों पदयात्री दूर-दूर से पैदल चलकर निशान ध्वज के साथ नाचते-गाते श्रीश्याम मंदिर, सूरतधाम पहुंचे।
श्रीश्याम सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष प्रकाश तोदी ने बताया कि वेसू में वीआईपी रोड पर श्रीश्याम मंदिर, सूरतधाम में तीन दिवसीय श्रीश्याम फाल्गुन महोत्सव की शुरुआत गुरुवार फाल्गुन शुक्ल दशमी तिथि से की गई। महोत्सव के दौरान श्रीश्याम मंदिर को विद्युत रोशनी से विशेष रूप से शृंगारित किया गया और बाबा श्याम, सालासर हनुमान व शिव परिवार का विशेष शृंगार किया गया। शाम को श्रीमानस मंडल की ओर से मंदिर प्रांगण में सुंदरकाण्ड पाठ की प्रस्तुति दी गई और बाद में आयोजित भजन संध्या में स्थानीय गायक योगेश जुनेजा समेत अन्य ने भजनों की प्रस्तुति दी।
फाल्गुन शुक्ल एकादशी के मौके पर शुक्रवार सुबह से ही श्रीश्याम मंदिर, सूरतधाम में श्रद्धालु श्यामभक्तों का रेला टूट पड़ा और हजारों श्रद्धालु निशान ध्वज के साथ शहर के विभिन्न क्षेत्रों से बाबा की जय-जयकार करते हुए मंदिर पहुंचे और बाबा के दरबार में निशान अर्पित किए। इसके बाद शाम पांच बजे से लगातार 12 घंटे तक कीर्तन हुआ, जिसमें स्थानीय भजन गायक संजय अग्रवाल, राजू गाडोदिया व कोलकाता के जयशंकर चौधरी ने भजनों की प्रस्तुति दी। भजनों का दौर देर रात तक चलता रहा और इसमें श्यामभक्ति के रस सागर में हजारों श्यामभक्त गोते लगाते रहे। फाल्गुन शुक्ल एकादशी के मौके पर शुक्रवार को श्रीश्याम मन्दिर, सुरतधाम के पट दर्शनार्थियों के लिए रातभर खुले रहे। आयोजक ट्रस्ट ने बताया कि फाल्गुन शुक्ल एकादशी पर बाबा श्याम का विशेष प्रसाद 50 हजार से अधिक श्रद्धालुओं के बीच बांटा गया।


बारिश में भी खूब लगे जयकारे
गुरुवार रात से ही शहर में मौसम बिगड़ा हुआ था और शुक्रवार सुबह तेज बारिश का दौर शुरू हो गया। तेज बारिश में भी बाबा श्याम के प्रति हजारों श्यामभक्तों की भक्ति ज्यों की त्यों बनी रही और वे भीगते हुए भी दर्शन के लिए घंटों कतार में खड़े रहे।


जात-जड़ूला व धोक लगेगी आज
शनिवार को फाल्गुन द्वादशी के उपलक्ष में मंदिर प्रांगण में सुबह साढ़े पांच बजे से जात-जडूला व बाबा श्याम को धोक के आयोजन श्यामभक्तों की ओर से किए जाएंगे। इस अवसर पर आयोजक श्रीश्याम सेवा ट्रस्ट की ओर से विशेष व्यवस्था की जाएगी।

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned